अखिलेश के बजट से लैपटॉप नदारत

लखनऊ | समाचार डेस्क: अखिलेश यादव द्वारा पेश उत्तरप्रदेश के बजट से तीन बड़ी योजनाओं में कटौती की गई है. हैरत की बात यह है कि अखिलेश सरकार उत्तरप्रदेश के बहुचर्चित लैपटॉप वितरण योजना को बंद कर रही है.

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने शुक्रवार को विधानसभा में राज्य के वित्त वर्ष 2014-15 का बजट पेश किया. लोकसभा चुनाव में हार के बाद इस बजट से समाजवादी पार्टी के रणनीति में परिवर्तन का संकेत मिलते है.


मुख्यमंत्री की ओर से पेश किए गए बजट में सरकार ने लैपटॉप योजना, बेरोजगारी भत्ता योजना और कन्या विद्या धन के लिए धन आवंटित नहीं किया गया है. इस तरह से सरकार ने अब इन तीनों योजनाओं को बंद कर दिया है.

मुख्यमंत्री ने दोपहर 12.20 बजे पर सदन के भीतर 2,74,704.59 करोड़ रुपये का बजट पेश किया. उप्र का यह बजट पिछले आठ वषरें में सबसे बड़ा बजट है. बजट का आकार पिछले वर्ष की तुलना में 22 फीसदी बड़ा है.

इससे पूर्व विधानसभा की कार्यवाही जैसे ही दोपहर 12.20 बजे शुरू हुई, भारतीय जनता पार्टी के सदस्य मुख्यमंत्री के बजट भाषण का विरोध करते हुए सदन से बहिर्गमन कर गए.

गौरतलब है कि लोकसभा चुनाव के ऐलान के बाद फरवरी में राज्य सरकार ने विधानमंडल में 2,59,848.68 करोड़ रुपये का अंतरिम बजट पेश किया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!