छत्तीसगढ़ में कांग्रेस नहीं आप है विकल्प-लांबा

रायपुर | संवाददाता: आम आदमी पार्टी की दिल्ली की विधायक अलका लांबा ने कहा है कि छत्तीसगढ़ में आम आदमी पार्टी का सीधा मुकाबला भाजपा से है. लाम्बा का कहना है कि पिछले 15 सालों से प्रदेश की जनता ने कांग्रेस को अपना विकल्प नहीं माना है और उन्हें सत्ता नहीं सौंपी. अलका लांबा ने छत्तीसगढ़ सरकार को दिल्ली आ कर मोहल्ला क्लिनिक देखने का भी न्यौता दिया.

दो दिनों के छत्तीसगढ़ दौरे पर पहुंची चांदनी चौक दिल्ली के विधायक अलका लांबा ने कहा कि छत्तीसगढ़ की तरह दिल्ली में भी जनता ने भाजपा को विकल्प नहीं माना था. दिल्ली में मजबूरी और विकल्प न होने के कारण जनता ने कांग्रेस की शीला दीक्षित सरकार को 15 साल सत्ता सौंपी थी.


उन्होंने कहा कि पार्टी दिल्ली मॉडल की तर्ज पर छत्तीसगढ़ में भी विधानसभा चुनाव लडेग़ी. अलका ने कहा कि भाजपा और कांग्रेस के बाद आम आदमी पार्टी देश में तीसरा राष्ट्रीय विकल्प बन रही है. दिल्ली इसका एक उदाहरण है. पार्टी दिल्ली में 67 सीटें लेकर कांग्रेस शून्य और भाजपा को तीन सीटों तक सीमित कर दिया है.

अलका लांबा ने कहा कि आम आदमी पार्टी आने वाले छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव में अकेले 90 सीटों पर अपने दम पर पूरी ताकत के साथ चुनाव लड़ेगी. पार्टी 68 विधानसभा सीटों के लिए उम्मीदवारों के नामों की घोषणा कर चुकी है. अभी 22 उम्मीदवारों के नामों की घोषणा बाकी है. पार्टी जल्द ही बची हुई सीटों पर अपने उम्मीदवारों की घोषणा कर देगी.

उन्होंने कहा कि केन्द्रीय नेतृत्व ने तय किया है कि आम आदमी पार्टी पूरे दमखम के साथ आगामी लोकसभा चुनाव भी लड़ेगी.

छत्तीसगढ़ को लेकर उन्होंने कहा कि सरकारी आंकड़े बताते हैं कि छत्तीसगढ़ में 22 लाख युवा बेरोजगार हैं. लेकिन हकीकत में बेरोजगारों की संख्या 30 लाख से अधिक है. इसलिए आम आदमी पार्टी को युवा संवाद की जरूरत पड़ी है.

उन्होंने दिल्ली की केजरीवाल सरकार की 3 साल की उपलब्धियां गिनाते हुये कहा कि हमारी सरकार ने दिल्ली में शिक्षा और स्वास्थ्य के क्षेत्र के जो काम किए हैं, वो काम छत्तीसगढ़ में भाजपा की सरकार 15 साल में नहीं कर पाई. छत्तीसगढ़ के लोग भाजपा और उसकी सरकार से त्रस्त हैं.

अलका लांबा ने कहा कि रमन सरकार के मंत्री दिल्ली आकर मोहल्ला क्लिनिक देखें.

केंद्र सरकार पर हमला बोलते हुये सुश्री लांबा ने कहा कि सरकार के खिलाफ आवाज उठाने वालों को जेल में डाला जा रहा है. देश में महिलाएं सुरक्षित नहीं हैं. भाजपा के विधायक ही रेप में शामिल हैं. आम आदमी पार्टी सत्ता परिवर्तन के लिए लड़ रही है. लोगों को आम आदमी पार्टी से ही उम्मीदें हैं.


पार्टी के प्रदेश संयोजक डॉ. संकेत ठाकुर ने बताया कि पार्टी ने दिल्ली के चुनाव में डोर टू डोर अभियान को सर्वोच्च प्राथमिकता दी थी. इसी रणनीति को अमलीजामा पहनाने दिल्ली के केंद्रीय नेता लगातार छत्तीसगढ़ प्रवास पर रहेंगे और आगामी कार्य योजना को सही स्वरूप देंगे.

उन्होंने बताया कि इसी परिप्रेक्ष्य में 3 सितंबर को प्रदेश प्रभारी व दिल्ली सरकार के श्रम मंत्री गोपाल राय रायपुर पहुचेंगे. 6 सितंबर को दिल्ली सरकार के जल एवं संस्कृति मंत्री राजेंद्र पाल गौतम रायपुर आएंगे. 8 सितंबर को दिल्ली के पूर्व मंत्री एवं मालवीय नगर के विधायक सोमनाथ भारती रायपुर आएंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!