‘अल्लाह’ से अन्याय

कुआलालंपुर | एजेंसी: मलेशिया की एक अदालत ने ईसाई अखबार द्वारा अल्लाह शब्द के उपयोग को वर्जित करार दिया है. अदालत ने अपने निर्णय में कहा है कि मलेशिया का कैथोलिक अखबार ‘द हेराल्ड’ इसका उपयोग ईसाई ‘गॉड’ का परिचय देने के लिए नहीं कर सकता है.

मलेशिया के अखबार ने तर्क दिया था कि वर्ष 2009 में अखबार के मलाया भाषा संस्करण में अल्लाह शब्द के उपयोग पर सरकार द्वारा लगाया गया प्रतिबंध असंवैधानिक है. फैसला आने के बाद अखबार ने कहा कि उनकी योजना संघीय अदालत में अपील करने की है.


न्यायाधीशों तीन सदस्यीय पीठ के अध्यक्ष अपंदी अली ने कहा, “हमारा फैसला है कि इससे किसी भी संवैधानिक अधिकार का उल्लंघन नहीं हुआ है. हमारा मानना है कि अल्लाह शब्द ईसाई धर्म की आस्था और व्यवहार का हिस्सा नहीं है.”

विवाद 2009 में तब उठा था, जब गृह मंत्रालय ने धमकी दी कि अगर अखबार ने अल्लाह शब्द का उपयोग किया तो उसका लाइसेंस रद्द कर दिया जाएगा. इसके बाद कैथोलिक अखबार ने मुकदमा दायर कर कहा कि यह उसके संवैधानिक अधिकारों का उल्लंघन है.

एक निचली अदालत ने अखबार के पक्ष को सही ठहराया था. इसके बाद वर्ष 2010 में कई गिरजाघरों पर हमले किए गए. इससे देश में धार्मिक संघर्ष का खतरा पैदा हो गया था.

अब न्यायालय के इस आदेश के पश्चात यह कहा जा रहा है कि अल्लाह के नाम पर पाबंदी लगा कर अल्लाह से अन्याय किया जा रहा है. गौर तलब है कि मलेशिया की दो तिहाई आबादी मुस्लिम है तथा यहां हिन्दू तथा ईसाई बड़ी संख्या में रहते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!