कैसा होगा मोदी सरकार का बजट

नई दिल्ली | समाचार डेस्क: मोदी सरकार का पहला बजट 10 जुलाई को पेश होगा. इसी के साथ इस बात का भी संकेत मिल जायेगा कि क्या वाकई में अच्छे दिन आने वाले हैं. इस बजट से आम जनता को बड़ी उम्मीदें है.

खबरों के अनुसार इस बजट सत्र में 28 बैठके होंगी. इससे एक दिन पहले 9 जुलाई को आर्थिक सर्वेक्षण पेश किया जायेगा. उससे पहले 8 जुलाई को रेल बजट पेश किये जाने की खबर है. सूत्रों के अनुसार, संसद का बजट सत्र 7 जुलाई से शुरू होगा.

मध्यम वर्ग को उम्मीद है कि इस बजट में आयकर में छूट दी जा सकती है वहीं, कारर्पोरेट घरानों की नजर इस पर है कि क्या नमो की सरकार भी ममो के समान ही उन्हें छूट जारी रखेगी. वर्तमान में 2 लाख से ऊपर की आय पर आयकर लगता है.

ऐसे में कयास लगाये जा रहें हैं कि इसे 5 लाख रुपयों तक बढ़ाया जा सकता है. गौरतलब है कि पूर्व की सरकार द्वारा पारित अंतरिम बजट की मियाद 31 जुलाई को समाप्त हो रही है. इस अवधि की समाप्ति से पहले संसद द्वारा पूर्ण बजट को मंजूरी मिल जानी चाहिए.

महंगाई एक ऐसा मुद्दा है आम जनता जिससे राहत की उम्मीद मोदी सरकार के पहले बजट से कर रही है. हालांकि, प्रधानमंत्री मोदी ने गोवा में भाजपा के सम्मेलन में स्पष्ट कर दिया था कि कड़े फैसले लेने पड़ सकते हैं.

इसीलिये, विशेषकर इस बजट पर देश भर की नजर है. जाहिर है, जब तक मोदी सरकार का बजट न पेश हो जाये तब तक इस बात का कौतुहल बना रहेगा कि कैसा होगा मोदी सरकार का बजट.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *