केजरीवाल के चुनावी खर्च पर नोटिस

नई दिल्ली | संवाददाता: दिल्ली के मुख्यमंत्री अऱविंद केजरीवाल को हाईकोर्ट ने नोटिस दी है. केजरीवाल को चुनाव में अधिक खर्च करने के मामले में दिल्ली हाईकोर्ट ने नोटिस जारी किया है. उनके अलावा कानून मंत्री सोमनाथ भारती को भी नोटिस जारी किया है. उन्हें यह नोटिस दिसंबर में हुए विधानसभा चुनाव में सीमा से अधिक खर्च करने के संबंध में उनके निर्वाचन को अमान्य घोषित किए जाने की मांग को लेकर दायर याचिका पर जारी किया गया है.

गौपतलब है कि भाजपा नेताओं -विजेंद्र गुप्ता और आरती मेहरा ने याचिका दायर कर यह आरोप लगाया था. हाईकोर्ट ने अरविंद केजरीवाल और सोमनाथ भारती से 25 फरवरी तक जवाब मांगा है. दोनों ने केजरीवाल और भारती पर 14 लाख रुपये की सीमा से अधिक खर्च करने का आरोप लगाया है.

न्यायामूर्ति विपिन संघी ने केजरीवाल को गुप्ता की याचिका पर नोटिस जारी किया है, जबकि न्यायामूर्ति जी.एस.सिस्तानी ने मेहरा की याचिका पर भारती को नोटिस जारी किया है. उन्होंने आम आदमी पार्टी के नेताओं पर चार दिसंबर को हुए चुनाव में 17 लाख रुपये से अधिक की राशि खर्च करने का आरोप लगाया है और उन्होंने न्यायालय से उनके निर्वाचन को अमान्य घोषित करने का निवेदन किया है.

गुप्ता ने कहा कि निर्वाचन आयोग के अनुसार प्रत्येक विधानसभा चुनाव में उम्मीदवारों के खर्च करने की सीमा 14 लाख रुपये है. गुप्ता ने कहा कि दोनों ही नेता भ्रष्टाचार में लिप्त रहे हैं और नामांकन पत्र भरने के बाद प्रचार के तहत 23 नवंबर, 2013 को जंतर मंतर पर ‘जीत की गूंज, वोट फार चेंज’ संगीत समारोह के लिए लगभग 94.80 लाख रुपये खर्च किए थे.

गुप्ता का कहना है कि इसमें कई गायकों और बॉलीवुड हस्तियों ने तीन से 10 लाख रुपये के मेहनताने पर प्रस्तुति दी थी, जिस रकम को केजरीवाल ने चुकाया था. केजरीवाल और आम आदमी पार्टी द्वारा 14.72 लाख रुपये की सीमा का उल्लंघन किया गया है. याचिका में कहा गया है कि केजरीवाल ने बड़े आयोजन के जरिए मतदाताओं को प्रभावित किया, जिससे चुनाव परिणाम प्रभावित हुए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *