बालीवुड से दूर ‘बालिका वधू’

मुंबई | मनोरंजन डेस्क: बालीवुड, टीवी सीरियल ‘बालिका वधू’ की चर्चित अदाकारा अविका गौर के बस का रोग नहीं है. इसका कारण यह है कि कक्षा 12वीं में पढ़ने वाली अविका गौर अंग प्रदर्शन करना नहीं चाहती हैं. स्क्रीन पत्रिका को दिए इंटरव्यू में अविका ने कहा, “बॉलीवुड के रोल मैं नहीं कर पाऊंगी. फ़िल्मों में कई अंतरंग दृश्य करने पड़ते हैं. मैं वो नहीं कर पाऊंगी.”

अविका गौर की ‘बालिका वधू’ को भारत ही नहीं कजाकिस्तान में भी देखा जाता है . कजाकिस्तान में मिथुन चक्रवर्ती के बाद लोग अविका गौर को ही पहचानते हैं. टीवी सीरियल की बालिका वधू अविका गौर ने तमिल और तेलुगू फिल्मों में अभिनय किया है. अविका का कहना है कि उन्हें बालीवुड की फिल्में ऐसी मिल रही थीं जिनमें उनसे बड़ी उम्र के अदाकारा की जरूरत थी. अविका का कहना है, “बॉलीवुड में मुझे जो रोल मिल रहे थे वो मेरी उम्र से बहुत ज़्यादा के थे. लेकिन तेलुगू और तमिल फ़िल्में इसलिए कर रही हूं क्योंकि मैं जो चाहती हूं वैसे रोल मिल रहे हैं. बॉलीवुड फ़िल्मों जैसे बिंदास रोल मेरे लिए नहीं है.”


बालिका वधू में अविका ने बाल कलाकार के तौर पर 515 एपिसोड तक काम किया. उसके बाद साल 2011 में शुरु सीरियल ‘ससुराल सिमर का’ में उन्होंने एक परिपक्व गृहिणी का किरदार निभाना शुरू किया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!