बिहार मिड डे-मील: प्रिसिपल का पॉलीग्राफ टेस्ट

सारण | एजेंसी: बिहार में सारण जिले के के एक सरकारी विद्यालय में विषाक्त मध्याह्न् भोजन खाने से हुई 23 बच्चों की मौत के मामले में न्यायालय के आदेश के बाद पुलिस स्कूल की प्रधानाध्यापिका मीना देवी का पॉलीग्राफी टेस्ट करवाने जा रही है. जिले के पुलिस अधीक्षक सुजीत कुमार ने इसकी पुष्टि की है.

सुजीत कुमार ने कहा कि मीना देवी के पॉलीग्राफी टेस्ट के लिए उन्हें तीन दिनों के रिमांड पर लेने हेतु जिला पुलिस और विशेष जांच दल (एसआईटी) को बुधवार को न्यायालय से अनुमति मिल गई थी. मीना देवी के स्वास्थ्य परीक्षण के बाद उनका पॉलीग्राफी टेस्ट कराया जा रहा है.

इस पॉलीग्राफी टेस्ट से पता चल जाएगा कि वह किसी सवाल के उत्तर सही दे रही हैं या नहीं. इस आधार पर पुलिस को जांच आगे बढ़ाने में मदद मिलेगी.

उल्लेखनीय है कि सारण के धर्मसती गंडामन गांव में स्थित नवसृजित प्राथमिक विद्यालय में 16 जुलाई को मिड डे मील योजना के तहत मिलने वाला खाना खाने से 23 बच्चों की मौत हो गई, जबकि रसोइया और 24 बच्चे अब भी बीमार हैं. घटना के बाद आई जांच रिपोर्ट में खाने में जहरीला पदार्थ होने की पुष्टि हुई थी.

इस मामले में गंडामन गांव के अखिलानंद मिश्र ने मशरख थाने में एफआईआर दर्ज करवाई थी, जिसमें प्रधानाध्यापिका मीना देवी और अन्य को आरोपी बनाया गया है.

मीना देवी को हादसे के बाद से 8 दिन फरार रहने के बाद 24 जुलाई को छपरा से गिरफ्तार किया गया था. उसके बाद पुलिस लगातार उनसे लगातार पूछताछ कर रही थी. गिरफ्तारी के अगले दिन न्यायालय के आदेश के बाद मीना देवी को पांच अगस्त तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *