बिलासपुर की बोगियां दूसरे ज़ोन को

बिलासपुर | संवाददाता: बिलासपुर में गलत मॉडल की आई 13 बोगियों को सेंट्रल रेलवे भेजा जाएगा. बोगियों की कमी से जूझते बिलासपुर रेलवे ज़ोन में पिछले साल भर से कई गाड़ियां इसलिये शुरु नहीं हो पाई हैं क्योंकि ज़ोन में नई गाड़ियों के परिचालन के लिये बोगियां ही नहीं हैं. बजट दर बजट नई रेल गाड़ियों की घोषणाएं महज कागजों में रह गई हैं.

हाल ही में बिलासपुर-बीकानेर और बिलासपुर-भगत की कोठी नाम से दो गाड़ियों को चलाने की कवायद शुरु की गई.लेकिन भारतीय रेलवे ने जोन को बोगियां ही नहीं भेंजी. बड़ी मुश्किल से बिलासपुर जोन को जोर-आजमाइश के बाद 13 बोगियां दी गईं. लेकिन ये सभी बोगियां दूसरे मॉडल की थी. बिलासपुर ज़ोन के अफसर इन बोगियों के सहारे समर स्पेशल चलाने की सोच ही रहे थे कि इन बोगियों को भी सेंट्रल रेलवे भेजने का फरमान आ गया.

जाहिर है, जो बोगियां बिलासपुर आई थीं, अब उनका इस्तेमाल सेंट्रल रेलवे करेगा.बिलासपुर को कब बोगियां मिलेंगी और कब नई गाड़ियों का परिचालन शुरु होगा, इस बारे में कोई भी दावा करने की स्थिति में नहीं है. लेकिन इतना तय है कि देश में सर्वाधिक आय देने वाला बिलासपुर ज़ोन हमेशा की तरह एक बार फिर से उपेक्षित रह गया है. जिस पर बात करने की फुर्सत उनमें से किसी भी जनप्रतिनिधि को नहीं है, जो रेलवे की पुलिया बनने पर भी उसे अपनी उपलब्धि बताते नहीं अघाते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *