भाजपा ने की चुनाव अभियान समितियों की घोषणा

नई दिल्ली भारतीय जनता पार्टी ने 2014 लोकसभा चुनावों के लिए अपनी बीस चुनाव अभियान समितियों का ऐलान कर दिया है.

सबसे मुख्य केंद्रीय समिति में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी, लाल कृष्ण आडवाणी, पार्टी अध्यक्ष राजनाथ सिंह, पूर्व पार्टी अध्यक्ष वैंकैया नायडू और नितिन गडकरी, सुषमा स्वराज, अरुण जेटली और भाजपा शासित राज्यों के मुख्यमंत्री शामिल हैं.


केंद्रीय चुनाव समिति के अध्यक्ष के रूप में नरेंद्र मोदी के नाम का ऐलान पहले ही किया जा चुका था और उन्हीं के नेतृत्व में केंद्रीय चुनाव समिति इन सभी समितियों पर नज़र रखेगी

भाजपा नेता अनंत कुमार ने शुक्रवार को आयोजित एक प्रेस कांफ्रेंस में चुनाव अभियान के लिए 20 समितियों के गठन की घोषणा की. इसके अनुसार घोषणा पत्र समिति की अध्यक्षता मुरली मनोहर जोशी करेंगे. इसके सदस्य जसवंत सिंह, यशवंत सिन्हा, प्रेम कुमार धूमल, सत्यपाल माणिक, दत्तात्रेय, महेश चंद्र शर्मा, शन्मुका नाथन होंगे.

भाजपा ने एक विज़न डॉक्यूमेंट भी बनाने की घोषणा की है जिसे नितिन गडकरी के नेतृत्व में तैयार किया जाएगा. प्रचार समिति का कार्यभार सुषमा स्वराज को सौंपा गया है. इसमें अरुण जेटली, अमित शाह और डॉ सुधांशु त्रिवेदी भी उनके साथ होंगे.

पारंपरिक अभियान समिति की ज़िम्मेदारी स्मृति ईरानी को सौंपी गई है. कैप्टन अभिमन्यु भी इसमें उनका साथ देंगे. ट्विटर, फ़ेसबुक जैसे सोशल नेटवर्किंग माध्यमों में प्रचार करने के लिए सूचना संचार समिति की ज़िम्मेदारी पीयूष गोयल को सौंपी गई है.

भाजपा का कहना है कि वह देश भर में सौ से ज़्यादा रैलियां करेगी, इनका आयोजन अगस्त से शुरू होगा. इनकी ज़िम्मेदारी अनंत कुमार और वरुण गांधी को सौंपी गई है. विशेष संपर्क कल्याण समिति भी बनाई गई है जो पार्टी कार्यकर्ताओं से संपर्क साधेगी. इसमें नितिन गडकरी के साथ डॉ सीपी ठाकुर, डॉ जयकर जैन, मृदुला सिन्हा, किरण माहेश्वरी और कलराज मिश्रा होंगे.

बीजेपी ने हर लोकसभा क्षेत्र में डेढ़ से दो हज़ार बूथ बनाने की जि़म्मेदारी थावरचंद गहलोत को सौंपी है. नए मतदाताओं को लुभाने के लिए नवमतदाता अभियान समिति बनाई गई है जिसमें अमित शाह के साथ नवजोत सिंह सिद्धू, त्रिवेंद्र रावत और पूजा महाजन होंगे.

बीजेपी का कहना है कि वह पूर्वोत्तर राज्यों पर विशेष ध्यान दे रही है और इसके लिए विशेष अभियान समिति बनाई गई है जिसमें एसएस अहलूवालिया, पद्मनाभ आचार्य और किरण रिज्जू रहेंगे. बुद्धिजीवी सम्मेलन और बीजेपी के मित्र समूह से संपर्क करने की ज़िम्मेदारी राजीव प्रताप रूडी, प्रकाश जावड़ेकर और तमिल ईसाई को सौंपी गई है.

चुनाव आयोग से संबंधित मामलों और क़ानूनी मसलों से निपटने के लिए बने आयोग में सतपाल जैन और भूपेंद्र यादव रहेंगे. पर्चे, पुस्तिका समिति का नेतृत्व बलबीर पुंज करेंगे और इसमें प्रभात झा, विनय सहस्रबुद्दि होंगे. वाहनों की आवाजाही का संयोजन मुख़्तार अब्बास नक़वी और अनिल जैन करेंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!