छत्तीसगढ़: पुलिस कस्टडी में 1 और मौत

कोरबा | संवाददाता: कोरबा में पुलिस कस्टडी में एक युवक की मौत हो गई है. मिली जानकारी के अनुसार 34 वर्षीय सब्बीर देवार की क्राइम ब्रांच टीम पिटाई से मौत हो गई है. युवक को चोरी के आरोप में संदेही के रूप में दो दिन पहले मानिकपुर में लाया गया था. इसके बाद उसकी ऐसी पिटाई की गई कि उसकी मौत हो गई है.

मृतक के परिजनों का आरोप है कि करेंट लगाने से उसकी मौत हो गई है. पुलिस का कहना है कि वह पहले से ही बीमार था. मृतक कबाड़ी का काम करता था तथा भलपहरी में रहता था. उसके दो बेटे हैं.


दरअसल जिले के चार थाना-चौकी के चोरी के मामले में हरदीबाजार चौकी के भलपहरी निवासी शब्बीर देवार को पुलिस ने दो दिन पहले अपने कब्जे में लेकर पूछताछ कर रही थी. इसी दौरान शनिवार की सुबह तबियत बिगड़ने से जिला अस्पताल में भर्ती करने से पहले ही पुलिस कस्टडी में ही उसकी मौत हो गयी. उसके बाद पुलिस उसे लेकर जिला अस्पताल लेकर पहुंची. जहां डाक्टरों ने परीक्षण के बाद मृत घोषित कर दिया.

पुलिस ने परिजनों को तबियत ख़राब होने की बात कह कर जिला अस्पताल लाया जहां परिजनों ने शब्बीर देवार की लाश देखा तो उनके होश उड़ गये. मृतक की सास बेबी की माने तो चोरी के आरोप में शब्बीर को चिरमिरी से सीआईटी की टीम ने सोमवार को हिरासत में ले कर पूछताछ कर रही थी.

इधर मृतक शब्बीर की साली ने बताया की पूछताछ के नाम पर पति शब्बीर और ससुर बबलू को सीआईटी की टीम ने हिरासत में लिया था तथा पूछताछ कर छोड़ने की बात कही थी. लेकिन पांच दिनों से हिरासत में रख कर मारपीट कर रहें है और मेरे जीजा की हत्या कर दी गई है.

इधर पूरे मामले में जिले के पुलिस कप्तान डी श्रवण ने सीआईटी पर लगे आरोपों को गलत बताया है. पुलिस मौत की वज़ह मारपीट की जगह बीपी लो होना बता रही है. जानकारों का कहना है कि करेंट लगाने से बीपी गिर जाता है.

एसडीएम और कोरबा एसपी क्राइम ब्रांच थाना पहुंचे. तीन डॉक्टरों की टीम पोस्टमार्टम करेगी. जिला कलेक्टर ने जांच के आदेश दे दिये हैं.

हाल के महीनों में यह पुलिस कस्टडी में हुई चौथी मौत है.

पुलिस कस्टडी में हुई मौंतें-

1) पिटाई से पुलिस कस्टडी में मौत

2) पुलिस हिरासत में मौत

3) छत्तीसगढ़: पुलिस कस्टडी में मौत

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!