जोगी रमन के दलाल: कांग्रेस प्रवक्ता

रायपुर | समाचार डेस्क: छत्तीसगढ़ कांग्रेस प्रवक्ता ने अजीत जोगी को सीएम का कथित दलाल तथा फाइनेंस लेने वाला कहा है. छत्तीसगढ़ कांग्रेस के प्रवक्ता शैलेष नितिन त्रिवेदी ने प्रेस को जारी एक नोट में छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री तथा कांग्रेस नेता अजीत जोगी पर आरोप लगाया है कि वे आदतन दलाल हैं. उन्होंने अजीत जोगी पर भाजपा के इशारें पर बयानबाजी करने का आरोप लगाया है.

गुरुवार को प्रेस को जारी नोट में छत्तीसगढ़ कांग्रेस के प्रवक्ता ने कहा, “अजीत जोगी ने रमन सिंह और भाजपा के इशारे पर पार्टी हाईकमान, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल और कांग्रेस विधायक दल के नेता टी.एस. सिंहदेव के खिलाफ बयानबाजी की है. कांग्रेस सोनिया गांधी की कांग्रेस राहुल गांधी की कांग्रेस और कांग्रेस के एक-एक कार्यकर्ता की कांग्रेस है. एक-एक छत्तीसगढ़वासी इस बात को समझ रहा है कि अजीत जोगी का नया राजनैतिक उपक्रम रमन सिंह से ही प्रायोजित है. फाइनेंस लेकर रमन सिंह को आज तक जिताने वाले अब रमन सिंह से ही फाइनेंस लेकर रमन सिंह को हराने वाले बनने का दिखावा कर रहे है.”


शैलेष नितिन त्रिवेदी ने आगे अजीत जोगी पर आरोप लगाया, “अजीत जोगी द्वारा लगातार भाजपा के साथ मिलीभगत करके कांग्रेस के विधायकों के क्षेत्रों में दौरा करके कांग्रेस विधायकों के विरूद्ध भाजपाइयों के साथ सांठगांठ काम करने की शिकायतें मिली है. जिनसे पार्टी नेतृत्व को लगातार अवगत कराया जाता रहा है. भाजपा के इशारों पर कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी और छत्तीसगढ़ के प्रभारी बी.के. हरिप्रसाद के खिलाफ अजीत जोगी ने 30-31 मई को बयान दिया था.”

छत्तीसगढ़ कांग्रेस के प्रवक्ता के अनुसार, दरअसल कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी को पार्टी की कमान मिलने की समाचारों से अजीत जोगी के पांव तले की जमीन खिसक गयी और बौखलाहट में वे इस तरह की बयानबाजी कर रहे है. चुनाव में भाजपा के साथ मिलीभगत करके कांग्रेस पार्टी को नुकसान पहुंचाने के प्रमाण मिलने के बाद छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी की कार्यकारिणी ने अमित जोगी को पार्टी से 6 साल के लिये निष्कासित और अजीत जोगी के विरूद्ध निष्कासन की कार्यवाही की अनुशंसा भेजी, जिस पर पार्टी की केन्द्रीय अनुशासन समिति द्वारा विचार किया जा रहा है.

शैलेष नितिन त्रिवेदी ने प्रेस को जारी अपने नोट में कहा कि “आज पुनः अजीत जोगी ने पार्टी नेतृत्व के लिये अपमानजनक शब्दों को प्रयोग करते हुये बयान जारी किया है. जो कि अजीत जोगी की भाजपा से सांठगांठ का जीता जागता प्रमाण है. अजीत जोगी की इन पार्टी विरोधी गतिविधियों का संज्ञान लेकर छत्तीसगढ़ कांग्रेस द्वारा इनकी जानकारी पार्टी नेतृत्व को और पार्टी की अनुशासन समिति को लगातार दी जा रही है.”

उधर, राजधानी रायपुर स्थित सूत्रों ने दावा किया कि अजीत जोगी 6 जून को मरवाही में नई पार्टी बनाने का एलान कर सकते हैं. उनके साथ 25 हजार कार्यकर्ताओं के भी कांग्रेस छोड़ने की गर्मागर्म खबर है. बहरहाल, कांग्रेस के अंदुरुनी झगड़ों का लाभ सत्तारूढ़ भाजपा को तात्कालिक तौर पर होने जा रहा है उसमें कोई शक नहीं है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!