छत्तीसगढ़: नक्सलगढ़ में जटिल सर्जरी हुई

दंतेवाड़ा | संवाददाता: छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा में ट्यूब प्रेगनेंसी की सफलता पूर्व ऑपरेशन किया गया है. इससे महिला की जान भी बच गई है तथा उसकी एक ट्यूब ठीक होने कारण से वह दुबारा गर्भधारण कर सकेगी. दंतेवाड़ा जिला अस्पताल में डॉक्टरों की टीम ने इस जटिल ऑपरेशन को सफलता पूर्वक किया है. दंतेवाड़ा के भट्टीपारा में रहने वाली 35 वर्षीया महिला सुशीला शादी के 16 वर्षो बाद गर्भवती हुई परन्तु उसका गर्भ, गर्भाशय में न होकर फैलोपियन ट्यूब में हो गया. इससे बच्चे के बढ़ने पर उसके जान का खतरा बढ़ रहा था. इस बीच उसके पेट के पेरोटोनियम कैविटी में भी खून जमा हो गया था. नक्सल पीड़ित इलाके में इस तरह की यह पहली सर्जरी है.

सुशीला के पति मजदूर हैं. इस ऑपरेशन के बाद सुशीला की नाजुक स्थिति ठीक हो गई है. गौरतलब है कि इससे पहले बीजापुर में भी चेन्नई से आये डॉक्टर एस नागूलन ने लेप्रोस्कोपिक सर्जरी शुरू की है. उन्होंने तीन माह में 120 सर्जरियां की है. इससे पहले इस तरह के केस को रायपुर रिफर कर दिया जाता था.


सुशीला का ऑपरेशन स्त्रीरोग विशेषज्ञ एमएस नेताम एवं जोग राजा ने किया. निश्चेतना देने का काम डॉक्टर गौरी नंदा ने किया. ऑपरेशन के जटिल होने के कारण उस समय ऑपरेशन थियेटर में जनरल सर्जन डॉक्टर बरिहा भी उपस्थित थे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!