डॉक्टर गुप्ता का मकान वृद्धों को

रायपुर | समाचार डेस्क: छत्तीसगढ़ के सुप्रसिद्ध होम्योपैथिक चिकित्सक डॉ. गुप्ता का मकान एजकेयर को जोनेट कर दिया गया. छत्तीसगढ़ के वयोवृद्ध और जाने-माने होम्योपैथी चिकित्सक डॉ. बी.सी. गुप्ता ने राजधानी रायपुर के बूढ़ापारा स्थित अपने निजी भवन को वृद्धजनों की देखभाल के लिए एजकेयर सेंटर के रूप में तब्दील कर दिया है.

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह की पत्नी वीणा सिंह ने एक कार्यक्रम में समाज कल्याण मंत्री रमशिला साहू, मुख्य सचिव विवेक ढांड और विवेकानंद आश्रम के स्वामी सत्यरूपानंद सहित अनेक प्रबुद्धजनों की उपस्थिति में इस भवन में एजकेयर सेंटर का शुभारंभ किया.


कार्यक्रम का आयोजन डॉ. गुप्ता मेमोरियल चेरिटेबल ट्रस्ट द्वारा समाज सेवी संस्था हेल्प-एज-इंडिया और प्रदेश सरकार के समाज कल्याण विभाग के सहयोग से किया गया.

वीणा सिंह ने इस अवसर पर अपने संक्षिप्त उद्बोधन में डॉ. बी.सी. गुप्ता की दानशीलता की प्रशंसा करते हुए उम्मीद जताई कि वरिष्ठ नागरिकों के लिए यह एजकेयर सेंटर एक अच्छे सेवा केंद्र के रूप में कार्य करेगा. उन्होंने संस्था की प्रगति के लिए शुभकामनाएं दीं. उन्होंने विश्वास प्रकट किया कि यहां वृद्धजनों को अच्छा वातावरण मिलेगा.

समाज कल्याण मंत्री रमशीला साहू ने कहा कि शासन की मंशा है कि वरिष्ठ नागरिकों को उनके जीवन काल में सुरक्षा एवं संरक्षण प्रदान हो. राज्य शासन इसके लिए कटिबद्ध है.

उन्होंने डॉ. बी.सी. गुप्ता की संवेदनशीलता की प्रशंसा की. मुख्य सचिव विवेक ढांड ने भी इस अवसर पर डॉ. बी.सी. गुप्ता के योगदान की प्रशंसा की.

उन्होंने उम्मीद जताई कि समाजसेवी संस्था हेल्पएज द्वारा इस एज केयर सेंटर का संचालन बेहतर ढंग से किया जाएगा. इस अवसर पर विवेकानंद आश्रम के स्वामी स्वरूपानंद ने कहा कि डॉ.बी.सी. गुप्ता द्वारा किया गया दान लाखों वरिष्ठ नागरिकों की आशा का केंद्र बनेगा.

समाज कल्याण विभाग द्वारा सभी अतिथियों को प्रतीकचिन्ह प्रदान किए गए. समाज सेवी संस्था हेल्पएज की राष्ट्रीय निदेशक ने सभी अतिथियों के प्रति आभार प्रकट किया.

पूर्व मुख्य सचिव एस.के.मिश्रा, पूर्व अपर मुख्य सचिव इंदिरा मिश्रा, प्रदेश सरकार के समाज कल्याण विभाग के सचिव दिनेश श्रीवास्तव, संचालक महिला एवं बाल विकास किरण कौशल सहित अनेक अधिकारी और हेल्पएज इंडिया के पदाधिकारी भी इस अवसर पर उपस्थित थे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!