रतनपुर नपा परिषद में कांग्रेस का कब्जा

रतनपुर | उस्मान कुरैशी: नगरपालिका परिषद के लिए हुए चुनाव में सत्ता पक्ष को चुनौती देकर अध्यक्ष पद के लिए कांग्रेस प्रत्यासी आशा सूर्यवंशी ने भारी मतों जीत दर्ज कराई है. पार्षद के 15 पदों में से सात पर कांग्रेस प्रत्याशियों को सफलता मिली है. वहीं छह पर भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी को कामयाबी हासिल की है. दो वार्डो में मतदाताओं ने निर्दलीय प्रत्याशियों पर भरोसा जताया है.

रविवार को रतनपुर नगर पालिका चुनाव के नतीजे घोषित कर दिए गए. नपा अध्यक्ष के लिए कांग्रेस से आशा सूर्यवंशी भाजपा से श्रीमती कौशल्या मंडलोई और भाकपा से अमोला बाई मैदान में थी. चुनाव में कांग्रेस की आशा सूर्यवंशी ने अपने निकटम प्रतिद्वंदी भाजपा की कौशिल्या मंडलोई को 2482 मतों से पराजित किया.


नगर में 15 वार्डो के परिणामों में काफी उलटफेर देखने को मिला है. वार्ड नंबर एक पर कांग्रेस के हरनारायण पोर्ते को जीत हासिल हुई है. उसने अपने निकटतम प्रतिद्वंदी भाजपा के रघुपाल पाव को पराजित किया है. यह सीट पहले भाजपा के कब्जे में थी. वार्ड नंबर दो से कांग्रेस के दामोदर सिंह क्षत्रिय ने जीत हासिल की है. उसने अपने निकटम प्रतिद्वंदी कांग्रेस के बागी निर्दलीय शिव कुमार दुबे को हराया है. वार्ड तीन से भाजपा के कन्हैया यादव ने एकतरफा जीत दर्ज करते हुए कांग्रेस के दुर्गा पटेल को पराजित किया. पहले यह सीट कांग्रेस के पास थी. वार्ड चार में कांग्रेस ने अपनी सीट बचा ली है. यहां से कांग्रेस की कुबरा बेगम अंसारी ने अपने निकटतम प्रत्याशी भाजपा की प्रभा देवी हराया .

वार्ड पांच में निर्दलीय धर्मेन्द्र ताम्रकार सुद्धू ने भारी उलटफेर करते हुए जीत हासिल की है. उसने अपने निकटतम प्रत्याषी भाजपा के संतोश यादव को हराया है. पहले यह सीट भाजपा के कब्जे में थी. वार्ड छह से कांग्रेस के डा. राजू श्रीवास को जीत मिली है. उसने भाजपा के पूर्व पार्षद तपेशवर तिवारी को हराया है. बीते 15 सालों से यह सीट भाजपा के पास थी. वार्ड सात का परिणाम भी काफी अप्रत्याशित आया है. 15 सालों से कांग्रेस के कब्जे में रही इस सीट पर भाजपा के अनिल यादव ने सेंध लगाई है. नपं में नेता प्रतिपक्ष रहे कांग्रेस के नीरज जायसवाल का ये काफी मजबूत गढ़ माना जाता रहा है. यहां से कांग्रेस प्रत्याशी रामफल श्रीवास को पराजय मिली है.

वहीं, वार्ड आठ से पूर्व नपं उपाध्यक्ष लवकुश यादव ने फिर अपना दमखम दिखाया है. यहां से उनकी पत्नी भाजपा प्रत्याशी श्रीमती सुकवारा कशयप नेे जीत हासिल की है. वार्ड आठ से कांग्रेस के सुरेश सूर्यवंशी ने जीत दर्ज कराई है. उसने अपने निकटतम प्रतिद्वंदी भाजपा के शिवदत्त को पराजित किया है. गौर तलब हो कि यह निर्वतमान अध्यक्ष घनशयाम रात्रे का वार्ड है. जो बीते 15 सालों से भाजपा के खाते में थी.

वार्ड दस में कांग्रेस ने अपनी सीट बचा ली है. यहां से कांग्रेस के शशिलता माथुर ने भाजपा की कौशिल्या कौशिक को हराया है. वार्ड 11 में इस बार कांग्रेस को पराजय मिली है. यहां से भाजपा प्रत्याशी विष्णु इंदुआ ने जीत हासिल की है. वार्ड 12 पर भाजपा ने अपना कब्जा बरकरार रखा है. यहां से जयप्रकाश कशयप ने कांग्रेस के पवन धीवर को पराजित किया है. वार्ड 13 से भाजपा के रामकुमार कशयप ने कांग्रेस के वादिर खान को हराया है.

वार्ड 14 से कांग्रेस के रूकसाना बेगम ने भाजपा के माधुरी पटेल को हराया है. निर्वतमान नपाउपाध्यक्ष देव कुमार पटेल का यह वार्ड भी बीते 15 सालों से भाजपा के कब्जे में थी. सबसे अप्रत्याशित परिणाम वार्ड 15 का रहा. आदिवासी बाहुल्य इस वार्ड में अब तक कांग्रेस का कब्जा रहा है. इस वार्ड में निर्दलीय दुवसिया बाई जगत ने जीत हासिल की है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!