छत्तीसगढ़ी फिल्म ‘बघवा’ चयनित

रायपुर | मनोरंजन डेस्क: छत्तीसगढ़ी लघु फिल्म ‘बघवा’ का चयन अहमदाबाद में होने वाले एशियन डाक्यूमेंट्री ऐंड शार्ट फिल्म फेस्टिवल ‘अल्पविराम’ के लिये किया गया है. यह फिल्म दक्षिण एशियाई वर्ग की प्रतिस्पर्धा के लिए चयनित हुई है. फिल्म युवा फिल्मकार सृंजय ठाकुर ने बनाई है. मूलतः राजनांदगांव के रहने वाले सृंजय ने दिल्ली विश्वविद्यालय के कॉलेज ऑफ आर्ट्स से पढ़ाई की है और फिलहाल गुड़गांव में एक विज्ञापन कंपनी से जुड़े हुए हैं.

अल्पविराम का आयोजन हर दो वर्ष में किया जाता है. इस वर्ष इसका आयोजन 4 अक्टूबर से आठ अक्टूबर के बीच एनआईडी अहमदाबाद में होगा.


करीब आधे घंटे की फिल्म बघवा छत्तीसगढ़ में मोहर्रम के दौरान निकाले जाने वाले काफी लोकप्रिय पारंपरिक शेर नाच पर आधारित है. कुछ छोटे-छोटे बच्चे शेर बनकर नाचना चाहते हैं और कैसे उनके मां बाप और समाज उनको इस छोटे से सपने को पूरा करने से रोकता है, फिल्म उस सपने को पूरा करने की जिद को दिखाती है.

फिल्म की शूटिंग करीब एक वर्ष पूर्व मोहर्रम के दौरान राजनांदगांव में की गई थी. फिल्म के लेखक और निर्देशक सृंजय ठाकुर हैं. सिनेमेटोग्राफी हर्षित सैनी और अर्चित सिंह ने की है. ये दोनों भी कॉलेज ऑफ आर्ट्स, दिल्ली से पढ़कर निकले हैं. उनके अलावा फिल्म का संपादन दर्पण बजाज, संगीत आधार चौहान और साउंड योगेश नवरत्न ने तैयार किया. फिल्म के आर्ट डाइरेक्टर रिंकू चौहान हैं.

फिल्म के गीत जाने माने जस गीत एवम लोक गीत लेखकः हर्ष कुमार बिंदु ने लिखे हैं. फिल्म में मुख्य भूमिका में स्वयं शुक्ल , मिहिर यादव, आलिया अली, देवेश बहादुर सिंह, अनीता यादव और पीयूष झा हैं. करीब तीस मिनट की फिल्म बघवा पूरी तरह से छत्तीसगढ़ी में बनाई गई है, जिसमें अंग्रेजी में सबटाइटल हैं.

उल्लेखनीय है कि दो वर्ष पूर्व एनआईडी के अल्पविराम में सृंजय ठाकुर की एक अन्य लघु फिल्म ‘लाइफ’ ने पुरस्कार भी जीता था. लाइफ को देश-विदेश के अनेक फिल्म समारोहों में प्रदर्शन भी किया जा चुका है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!