इस बच्ची की मदद करें

आप मुझे बचा सकते हैं
रायपुर | रविंद्र सिंह क्षत्री: रायपुर स्टेशन में एक मां अपनी बेटी का हाथ थामे रो रही थी. अंबिकापुर से किसी तरह रायपुर पहुंची यह मां अपनी बेटी रिया को ऑटो से अस्हॉपताल ले जाना चाहती थी. लेकिन उनके पास पैसे नहीं थे. किसी तरह ये मां अपनी बेटी को लेकर अस्पताल तक पहुंची.

इस परिवार से कुछ महीनों पहले ही मेरा परिचय एक व्यक्ति के माध्यम से हुआ था, इसलिये हम दोनों के पास एक दूसरे का नंबर था. कल रात इनका फोन आया. पता चला कि ये राजधानी रायपुर के मेकाहारा अस्पताल कैम्प्स के बाहर अपनी बच्ची के साथठण्ड में बैठी हुई थी. मुझे रोते हुए कॉल किया कि ना तो इलाज के लिए पैसे हैं और न ही रात को रुकने के लिए जगह. ऊपर से साथ में बीमार बच्ची जो किडनी की गंभीर बिमारी से पीड़ित है. रायपुर से बाहर होने के कारण मैंने अपने कुछ साथियों को इसकी सूचना दी, जिसके बाद मेरे मित्रों ने इनके ठहरने का इंतजाम किया और दवाओं के लिये भी कुछ आर्थिक मदद की.

अगले दिन सुबह यह मां अपनी बच्ची रिया को लेकर रायपुर के एम्स हॉस्पिटल पहुची. जहाँ डॉक्टरों ने रूटीन चेकअप किया. डॉक्टर ने मुझे बताया कि रिया को नेफ्रोटिक सिंड्रोम है और तकरीबन 3 साल तक उसे लगातार दवाइयों का सेवन करना ही होगा. किडनी में कई तरह की परेशानियों के कारण रिया का पूरा शरीर सूज गया है.

रिया की मां अर्चना सोनकर के अनुसार रिया के पापा परिवार से अलग रहते हैं. अर्चना सोनकर सब्जियां बेच कर घर चलाने के साथ साथ अपनी बच्ची का इलाज भी करवा रही हैं. आगे-पीछे परिवार का कोई नहीं है, जो इनकी इस मुसीबत में मदद कर सके. माँ-बेटी दोनों साथ मिलकर जीवन के इस संघर्ष भरे पड़ाव पर चल रहे हैं.

हम कुछ मित्रों ने तय किया है कि हमें रिया के लिये अगले तीन साल की दवा का इंतजाम करना है और साथ ही इस परिवार की आर्थिक सहायता के लिये अंबिकापुर में ही एक छोटी-सी सब्जी की दूकान खुलवाई जाये. क्या आप रिया और उनकी मां की मदद करेंगे?

आपकी छोटी-सी मदद इस परिवार की जिंदगी को खुशियों से भर देगी. आप अपनी राशि इनके स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के खाते में भी जमा कर सकते हैंः

Archana Sonkar
Account: 34494043482
State Bank Of india, Ambikapur, Chhattisgarh
IFSC Code- SBIN0012327

अधिक जानकारी के लिए मुझसे भी संपर्क कर सकते हैं. मेरा नंबर है-7415191234
*लेखक सुमित फाउंडेशन जीवनदीप से जुड़े हुये हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *