Independence Day ‘बस्तर नेट’ की सौगात

रायपुर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री ने स्वतंत्रता दिवस के दिन ‘बस्तर नेट’ की घोषणा की. छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर के पुलिस ग्राऊण्ड में आयोजित मुख्य कार्यक्रम में छत्तीसगढञ के मुख्यमंत्री रमन सिंह ने ‘बस्तर नेट’ परियोजना की घोषणा की. इसके तहत बस्तर में 40 करोड़ रुपयों की लागत से 832 किलोमीटर लंबे ऑप्टिकल फाइबर केबल बिछाये जायेंगे. यह नेटवर्क ‘रिंग पद्धति’ से निर्मित होने के कारण वैकल्पिक मार्गों से निर्बाध मोबाइल और इंटरनेट कनेक्टिविटी प्रदान कर सकेगा.

इस अवसर पर छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह ने कहा कि यह बस्तर में राज्य सरकार का ‘डिजिटल हाइवे’ होगा, जो ज्ञान-आधारित समाज, अवसर और अर्थव्यवस्था के विकास की नई क्रान्ति लाने में सहायक होगा, इससे शासकीय सेवाओं में पारदर्शिता, तीव्रता तथा जवाबदेही भी बढ़ेगी.


मुख्यमंत्री ने विगत वर्ष सूखे के कठिन दौर में धैर्य और साहस का परिचय देने पर राज्य के अन्नदाताओं को साधुवाद दिया. उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने भी किसानों को हरसंभव राहत देने के उपाय किए, जिसके फलस्वरूप लगभग दो हजार करोड़ रूपए की राहत दी गई.

मुख्यमंत्री ने वर्ष 2018 तक प्रदेश के सभी गावों में बिजली पहुंचाने के लक्ष्य दोहराते हुए कहा कि ऐसे क्षेत्रों जहां बिजली पहुंचाना कठिन है, वहां किसानों के लिए सौर सुजला योजना शुरू की जा रही है. इस योजना के अन्तर्गत अगले तीन वर्षों में 51 हजार सोलर पम्प स्थापित किए जाएंगे. उन्होंने राजनांदगांव, रायगढ़ और जांजगीर-चांपा में 100-100 मेगावॉट के सोलर पावर प्लांट लगाने की घोषणा की.

मुख्यमंत्री ने सोमवार सवेरे राजधानी रायपुर के पुलिस परेड ग्राउण्ड में ध्वजारोहण के बाद छत्तीसगढ़ पुलिस, होम गार्ड, छत्तीसगढ़ विशेष सशस्त्र बल, भारत-तिब्बत सीमा पुलिस बल के जवानों तथा एन.सी.सी., एनएसएस और भारत स्काऊट-गाईड के विद्यार्थियों की संयुक्त परेड की सलामी ली. पहली बार परेड में झारखण्ड पुलिस बल के जवानों ने भी हिस्सा लिया. मुख्यमंत्री ने खुले वाहन में सवार होकर परेड मैदान में उपस्थित जनसमुदाय का अभिवादन किया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!