एसईसीएल आवास का छज्जा गिरा

कोरबा | अब्दुल असलम: रविवार तड़के छत्तीसगढ़ के कोरबा के सुभाष ब्लाक स्थित एसईसीएल आवासीय परिसर के एक मकान का छज्जा भरभरा कर गिर पड़ा. इस घटना में चार बहन घायल हुए है . एक बहन को गंभीर चोट आई है, जिसे छत्तीसगढ के बिलासपुर स्थित अपोलो रेफर किया गया है. वहीं घायल तीन अन्य बहनों का उपचार एसईसीएल मुड़ापार के विभागीय अस्पताल में चल रहा है. घटना की सूचना पर एसईसीएल के अधिकारी व मानिकपुर चौकी पुलिस मौके पर पहुंच गए थे. घटना के बाद स्थानीय लोगों में एसईसीएल प्रबंधन के खिलाफ गहरा आक्रोश देखने को मिला.

जानकारी के अनुसार मानिकपुर चौकी अंतर्गत सुभाष ब्लाक कालोनी के आवास क्रमांक एमडी-63 में कार्तिक राम टंडन 45 वर्ष निवास करता है. कार्तिकराम टंडन अपनी पत्नी व चार बच्ची चंद्रशीला टंडन 20 वर्ष, चंद्रकला 18 वर्ष, चंद्रप्रभा 12 वर्ष व चंद्रशीतल 10 वर्ष के साथ रहता है. बीती रात खाना खाने के बाद दंपति अपने कमरे में सोने चले गए. चारों बच्चियां भी अपने बेडरूम में सो रही थी. सुबह लगभग 4 बजे अचानक बच्चियां जहां सो रही थी, उस कमरे का छज्जा उनके ऊपर आ गिरा. इस हादसे में चंद्रशीला के सिर व चेहरे पर गंभीर रूप से चोट आई. वहीं अन्य बहनें भी घायल हो गई.

चारों को आनन-फानन में उपचार के लिए एसईसीएल मुड़ापार अस्पताल लाया गया. जहां हालत बिगडऩे पर चंद्रशीला को तत्काल उपचार के लिए अपोलो बिलासपुर रेफर कर दिया गया. वहीं चंद्रप्रभा को भी गंभीर रूप से चोट आई है. इसके अलावा चंद्रशीलत तथा चंद्रशीला को आंशिक चोटें आई है. जिनका उपचार जारी है.

जर्जर हो चुकी है मकानें
एसईसीएल के सुभाष ब्लाक कालोनी की मकानें जर्जर हो चुकी है. मानिकपुर खदान में होने वाले विस्फोट के कारण मकानों में दरारें आ चुकी है. सिविल विभाग द्वारा मकानों की मरम्मत को लेकर ध्यान नहीं दिया जा रहा है. जिसके कारण एसईसीएल के अधिकारी, कर्मचारी जर्जर मकानों में रहने को मजबूर है. यह घटना बड़ी हो जाती अगर मलबा ज्यादा गिरता. कई मकानों की हालत इसी प्रकार जीर्ण-शीर्ण पड़ी हुई है. घटना के बाद स्थानीय लोगों में अपनी सुरक्षा को लेकर डर बना हुआ है. घटनास्थल पर पहुंचे लोगों ने बताया कि एसईसीएल की उदासीनता के कारण मकानों की यह हालत है. लंबे समय से मेन्टेनेंस पर ध्यान नहीं दिया जा रहा है. जिसका खामियाजा कर्मचारी भुगत रहे है.

फीटर के पद पर पदस्थ है कार्तिकराम
कार्तिकराम एसईसीएल मानिकपुर सेंट्रल वर्कशाप में फीटर के पद पर पदस्थ है. बताया जाता है कि उसकी पुत्री चंद्रशीला भिलाई के रूगटा कालेज में इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर रही है. जो छुट्टिïयों में घर सुभाष ब्लाक आई हुई थी. घटना में चंद्रशीला को ही गंभीर चोट आई है.


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *