विधायक नहीं है VIP- रेलवे

रायपुर | संवाददाता: रेलवे के नियमानुसार विधायकों को वीआईपी कोटे की सीटें नहीं मिलेंगी. इसकी जानकारी न होने के कारण कांग्रेस के छत्तीसगढ़ के तीन विधायक बृहस्पति सिंह, प्रीतम सिंह तथा पारसनाथ रजवाड़े को अंबिकापुर-दुर्ग ट्रेन के एसी-टू में कंन्फर्म सीट नहीं मिल पाई. लिहाजा उन्होंने फर्श पर लेटकर सफर किया. यह तीनों विधायक राजधानी रायपुर में सरगुजा विकास प्राधिकरण की बैठक में भाग लेने आये थे.

कांग्रेसी विधायकों के फर्श पर लेटकर, बैठकर यात्रा करने का फोटो इंटरनेट पर वायरल होते ही रेलवे ने भी सोशल मीडिया के माध्यम से अपना पक्ष रखा.

रेलवे के अधिकारियों ने 26 अगस्त, 2015 का वह पत्र जारी किया जो छत्तीसगढ़ विधानसभा तथा मध्यप्रदेश विधानसभा को भेजा गया था. उस पत्र के अनुसार रेलवे ने वीआईपी कैटेगरी को 10 से घटाकर 5 कर दिया है तथा नई सूची में विधायक शामिल नहीं है.

रेलवे ने उस दिन वीआईपी कोटे से 6 सीट दी थी. जिसमें से 2 कैंसर मरीजों को, 2 कलेक्टर कोरिया तथा 2 जीएम आरसीसी को अलॉट किया गया था.

इस पूरे मामले पर चुटकी लेते हुये भाजपा के रायपुर के विधायक श्रीचंद सुंदरानी ने कहा कि जब रेलवे में विधायकों का कोई कोटा नहीं होता है तो भला उन्हें सीट कैसे मिल सकती थी. उन्होंने खुद का उदाहरण देते हुये कहा कि एक बार नागपुर से दिल्ली तक का सफर ट्रेन के फर्श पर अखबार बिछाकर किया था.

वहीं, दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे के सीपीआओ हिमांशु जैन ने कहा है कि उन्हें मीडिया से इसकी जानकारी मिली है. प्रारंभिक जानकारी के अनुसार रेलवे को समय पर फैक्स नहीं मिल पाया था. इसके अतिरिक्त कोई चूक हुई हो तो उसकी जांच करवाई जायेगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *