नक्सली शहीद सप्ताह, आवागमन प्रभावित

जगदलपुर | एजेंसी: छत्तीसगढ़ के बस्तर में नक्सली शहीदी सप्ताह के कारण ट्रेन तथा बसे प्रभावित रहीं. रेलवे ने पूर्व के हमलों के मद्देनज़र एतिहात के तौर पर पैसेंजर ट्रेन को एक सप्ताह के लिये किरंदुल तक न चलाने का फैसला किया है. नक्सलियों के शहीद सप्ताह के पहले दिन गुरुवार को बस्तर में आमतौर पर शांति रही. नक्सली प्रभाव वाले इलाकों में कारोबार ठप रहा, वाहनों की आवाजाही अवरुद्ध रही. किरंदुल से वाल्टेयर के मध्य चलने वाली एकमात्र पैसेंजर ट्रेन किरंदुल तक नहीं चली. रेलवे सूत्रों के अनुसार किरंदुल-विशाखापटनम रेल लाइन पर चलने वाली पैसेंजर ट्रेन 28 जुलाई से 3 अगस्त तक किरंदुल नहीं जाएगी. इस अवधि में पैसेंजर ट्रेन वाल्टेयर से जगदलपुर तक ही चलाई जाएगी.

रेल प्रशासन ने पूर्व में हुए हमलों को गंभीरता से लेते हुए यात्रियों की सुरक्षा के मद्देनजर ट्रेन को किरंदुल की बजाए जगदलपुर तक ही चलाने का निर्देश जारी किया है.


इस मार्ग पर रात्रि सात से सुबह छह बजे तक मालगाड़ियों की आवाजाही पर भी रोक लगा दी गई है.

नक्सल प्रभावित इलाकों में बंद का व्यापक असर देखा गया. बस्तर के शेष कस्बे एवं शहरों में बंद बेअसर रहा. संभाग के सातों जिलों दंतेवाड़ा, बीजापुर, नारायणपुर, जगदलपुर, सुकमा, कोंडागांव एवं कांकेर के अंदरूनी इलाकों में व्यवसायिक कारोबार ठप रहा, हाट बाजार भी नहीं लगे.

इन इलाकों में यात्री वाहनों व मालवाहक वाहनों के पहिए थमे रहे. संभाग एवं जिला मुख्यालयों से नक्सली क्षेत्रों में जाने वाली यात्री बसें जगदलपुर से रवाना ही नहीं हुईं. टैक्सी चालकों ने भी वाहनों का परिचालन बंद रखा.

सुबह दंतेवाड़ा जिले के अरनपुर थाना क्षेत्र के गोंडेरास-नेरीपारा में पुलिस व नक्सलियों के बीच मुठभेड़ हुई. इस मुठभेड़ में किसी के हताहत होने की जानकारी नहीं मिली है.

नक्सलियों ने बस्तर संभाग के विभिन्न इलाकों में बीती रात हस्तलिखित पर्चे व पोस्टर चस्पा किए हैं. पर्चे और बैनरों में सीपीआई माओवादी की ओर से गांव-गांव में शहीद सप्ताह मनाने, शोक सभाओं व बैठकों में भाग लेकर मृत नक्सलियों को श्रद्घांजलि अर्पित करने की अपील की गई है.

नक्सलियों द्वारा शहीद सप्ताह मनाए जाने के ऐलान के बाद से ही संभाग में हाईअलर्ट जारी कर दिया गया है. आह्वान को देखते हुए पुलिस द्वारा समुचित तैयारी कर सुरक्षा के व्यापक प्रबंध किए गए हैं. गांवों व मुख्य मार्गों पर गश्त बढ़ा दी गई है.

थाना व चौकी प्रभारियों को विशेष सतर्कता बरतने के निर्देश दिए गए हैं. नक्सली इलाकों का हवाई सर्वेक्षण किया जा रहा है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!