छत्तीसगढ़: रेप का मुआवजा 500 रु

अंबिकापुर | समाचार डेस्क: छत्तीसगढ़ की एक पंचायत ने रेप पीड़िता को 500 रुपये लेकर मुंह बंद ऱखने कहा है. हालांकि, पंचायत के इस फरमान खिलाफ जाकर रेप पीड़िता तथा उसके पति ने पुलिस में रिपोर्ट दर्ज करवाई है. मामला अंबिकापुर के लुंड्रा तहसील के डकईपारा गांव का है.

मिली जानकारी के अनुसार इस गांव की रहने वाली शादीशुदा पीड़िता एक गृह प्रवेश के कार्यक्रम में गई हुई थी. कार्यक्रम के बाद गांव के कोटवार ने उसे मोटरसायकल से घर पहुंचाने की बात करके अपने साथ बैठा लिया. आरोपी ने पीड़िता को घर न पहुंचाकर उसको स्थानीय स्कूल के रसोई में ले जाकर बलपूर्वक उसके साथ अनाचार किया गया.


महिला ने जब अपने परिजनों को इसकी सूचना दी तो गांव का पंचायत उऩके खिलाफ हो गया. पंचायत की बैठक बुलाई गई तथा पंचायत ने फरमान सुनाया कि पीड़िता पुलिस के पास न जाकर 500 रुपये ले ले अन्यथा उसका गांव में बहिष्कार कर दिया जायेगा.

पंचायत के लगातार दबाव से पीड़िता तथा उसके पति हफ्तेभर तक सहमें रहे. उसके बाद जाकर उन्होंने पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई है. पुलिस ने आरोपी संत कुमार पनिका के खिलाफ़ रेप तथा अनुसूचित जाति एवं जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम के तहत मामला दर्ज कर लिया है.

सरगुजा के पुलिस अधीक्षक राधेश्याम नायक ने कहा कि मामले की जांच जारी है, पीड़िता की शिकायत पर रिपोर्ट दर्ज हो चुकी है, आरोपी जल्द हिरासत में होगा, जहां तक पंचायत का मसला है जो भी तथ्य जांच में आयेंगे उस अनुरूप कार्यवाही होगी, हमारी मौजूदा प्राथमिकता आरोपी को पकड़ना है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!