सोयाबीन में उछाल से किसान खुश

रायपुर | एजेंसी: छत्तीसगढ़ में सफेद सोना के नाम से पहचाने जाने वाले सोयाबीन के भाव में उछाल आने से किसान काफी खुश हैं. एक सप्ताह पहले 3200 रुपये क्विंटल में बिक रहे सोयाबीन के भाव में आज 600 रुपये की उछाल आने से सूबे के किसान गदगद हैं.

बताया जाता है कि अब तक कृषि उपज मंडी बेमेतरा में 60 हजार क्विंटल करीब 20 करोड़ 40 लाख रुपये के सोयाबीन की आवक हो चुकी है. व्यापारियों का कहना है कि करीब एक लाख क्विंटल सोयाबीन बिक चुका है. इस उछाल ने किसानों को राहत पहुंचाई है क्योंकि अधिक बारिश के कारण जिले में करीब 35 से 40 करोड़ रुपये के सोयाबीन की फसल को नुकसान हो चुका है.


सोयाबीन की फसल लेने वाले किसान सनत धर दीवान का कहना है कि इस बार मौसम की मार ने पहले किसानों के सफेद सोने को चौपट कर दिया, ऐसे में यदि अभी उछाल आया है तो किसानों के कुछ नुकसान की भरपाई होने की उम्मीद है. फायदे के लिहाज से नवागढ़ के किसान साजा, बेरला व बेमेतरा से बेहतर स्थिति में हैं. नवागढ़ में अन्य स्थानों की तुलना में कम बारिश हुई है.

बेमेतरा जिले में करीब एक लाख एकड़ में सोयाबीन की फसल की गई है, जिसकी अनुमानित कीमत करीब 380 करोड़ रुपये है. सोयाबीन की कीमत में उछाल की वजह मध्यप्रदेश में सोयाबीन की फसल को बारिश से हुआ नुकसान है. मध्यप्रदेश से सोयाबीन नहीं आ रहा है. ऐसे में महाराष्ट्र के सोयाबीन पर प्लांट को निर्भर रहना पड़ेगा. छत्तीसगढ़ में इसका रकबा अभी भी कम है.

बहरहाल, सोयाबीन की डिमांड इस बार सोया प्लांटों में बढ़ गई है दूसरी तरफ इसकी पैदावार कम हुई है इसके चलते उम्मीद व्यक्त की जा रही है कि अभी इसके भाव में और उछाल आ सकता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!