9 इंजीनियर निलंबित

रायपुर | समाचार डेस्क: छत्तीसगढ़ में फर्जी तरीके से नहरों की लाइनिंग करने वाले जल संसाधन विभाग के 9 इंजीनियरों को निलंबित कर दिया गया है. निलंबित लोगों में पांच सहायक अभियंता और चार उप अभियंता हैं. इसके अलावा कार्यपालन अभियंता, अधीक्षण अभियंता और मुख्य अभियंता सहित दो एआरओ को नोटिस जारी करके उनसे जवाब तलब किया गया है.

इस निलंबन के बाद से जल संसाधन विभाग में हड़कंप मचा हुआ है. हालांकि विभाग के लोगों का आरोप है कि बड़े अधिकारियों को बचाया जा रहा है, जो असल में इस गड़बड़ी के लिये जिम्मेवार हैं.

जल संसाधन विभाग के सचिव गणेश शंकर मिश्रा के अनुसार जल संसाधन विभाग के प्रमुख अभियंता एचआर कुटारे तथा मुख्यालय के उड़नदस्ते के साथ हसदेव बांगो परियोजना की अकलतरा शाखा नहर, चांपा शाखा नहर, केरा वितरक नहर तथा केरा माईनर में ईएमआर मद से चल रहे कामों की जांच में पाया कि कार्यों में भारी गड़बड़ी की जा रही है. इसके अलावा कई स्थान पर तो काम ही नहीं हुये हैं लेकिन कागज़ों पर सब कुछ दुरुस्त है. इसके बाद विभाग ने प्रारंभिक रुप से जिम्मेवार 9 इंजीनियरों को निलंबित कर दिया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *