एंटनी के दौरे के बीच चीन की धमकी

बीजिंग: चीन ने भारत के साथ चल रहे सीमा विवाद पर एक बार फिर कड़े तेवर दिखाए हैं. चीन की पीपुल्स लिबरेश आर्मी के मेजर जनरल लुओ युवान ने भारत को धमकाते हुए कहा है कि भारत सीमा क्षेत्रों पर सैनिकों की संख्या बढ़ाकर खुद के लिए नई मुसीबत मोल न ले.

युवान चाइनीज स्ट्रैटिजी कल्चर प्रमोशन असोसिएशन के सेक्रेटरी जनरल और एग्जेक्युटिव वाइस प्रेजिडेंट भी हैं. उन्होंने अंतरराष्ट्रीय पत्रकारों के सवाल का जवाब देते हुए कहा, ‘भारत द्वारा कब्जाए गए 90 हजार वर्ग किलोमीटर हिस्से को लेकर समस्या बरकरार है. यह समस्या सालों से है और इस पर ठंडे दिमाग से विचार करना होगा’. इस हिस्से से युवान का आशय अरुणाचल प्रदेश से है जिसे चीन अपना हिस्सा बताते आया है.


जनरल युवान ने यह भी कहा कि पूरी दुनिया में सिर्फ भारत ही ऐसा देश है जो चीन से खतरे के चलते अपनी सैन्य शक्ति बढ़ाने की बात कहता है लेकिन भारत को अपनी कथनी और करनी के अंतर का ध्यान रखना चाहिए.

युवान का यह आक्रमक बयान ऐसे समय आया है जब भारतीय रक्षा मंत्री ए के एंटनी चार दिवसीय चीन दौरे के लिए बीजिंग पहुँचे ही हैं. रक्षा मँत्री एंटनी इस दौरे पर चीन के साथ सीमा सुरक्षा और समन्वय के समझौता पत्र पर चर्चा करेंगे. चीन चाहता है कि भारत इस पर हस्ताक्षर कर दे लेकिन भारत समझौते के मसौदे से पूरी तरह सहमत नहीं है.

माना जा रहा है कि इस दौरे पर एंटनी की चीनी रक्षामंत्री जनरल चांग वैंकुआन के साथ सीमा पर शांति बहाली और सीमा विवाद जैसे मुद्दों पर बातचीत होगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!