टीपू जयंती पर विवाद, 1 मरा

बेंगलुरू | समाचार डेस्क: कर्नाटक में टीपू सुल्तान जयंती के विरोधियों तथा समर्थकों के संघर्ष में एक मारा गया. मरने वाला विश्व हिंन्दू परिषद का कार्यकर्ता बताया जा रहा है.

उल्लेखनीय है कि कर्नाटक सरकार के द्वारा टीपू सुल्तान की जयंती मनाने का कई संगठन विरोध कर रहें हैं. टीपू सुल्तान उन चंद राजाओं में शामिल हैं जिन्होंने ब्रिटिश शासन की खिलाफत की थी.


कोडागू जिले के मदिकेरी में कर्नाटक सरकार द्वारा आयोजित टीपू सुल्तान के जयंती समारोह के समर्थकों और विरोधियों के बीच हुए संघर्ष में मंगलवार को एक 50 वर्षीय व्यक्ति की मौत हो गई है.

अधिकारियों ने बताया, मदिकेरी के थिमैया सर्कल पर टीपू सुल्तान समर्थक समूह और विश्व हिंदू परिषद के कार्यकर्ताओं के बीच हुए संघर्ष के दौरान हुए पथराव में कुटप्पा के सिर में चोट लग गई थी.

जिस समय एक मुस्लिम समूह 18वीं सदी में मैसूर के शासक रहे टीपू सुल्तान की जयंती मना रहा था, तभी विहिप कार्यकर्ताओं का एक दल इसका विरोध करते हुए वहां पहुंच गया. परिणामस्वरूप मंगलवार सुबह दोनों पक्षों के बीच संघर्ष शुरू हो गया. इस संघर्ष में तीन अन्य लोग घायल हो गए हैं.

कोडागु की एसपी वर्तिका कटियार ने बीबीसी हिंदी को बताया कि वीएचपी के कोडागु इकाई के महासचिव डीएस कुटप्पा कथित तौर पर माडिकरी अस्पताल के परिसर में भागने लगे और क़रीब 15 फुट की ऊंचाई से एक गड्ढे कूद गए.

कटियार ने बीबीसी से कहा, “वह पुलिस के लाठीचार्ज या आंसू गैस के गोले से नहीं मरे और न ही उन्हें मारा गया. वह अस्पताल के परिसर में दौड़ने लगे और क़रीब 15 फुट की ऊंचाई से एक गड्ढे में गिर गए.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!