जूदेव पंचतत्व में विलीन

जशपुर | संवाददाता: भाजपा नेता और सांसद दिलीप सिंह जूदेव का अंतिम संस्कार पूरे राजकीय सम्मान के साथ शुक्रवार को किया गया. उनके छोटे बेटे संसदीय सचिव एवं चंद्रपुर विधायक युद्धवीर प्रताप सिंह जूदेव ने अपने पिता को मुखाग्नि दी.

इससे पहले जूदेव का पार्थिव शरीर राष्ट्रध्वज तिरंगे में लपेट कर अंतिम यात्रा निकाली गई थी.जूदेव की एक झलक पाने के लिये उमड़े जनसैलाब को रोक पाना मुश्किल हो रहा था.लोग अपने नेता की अंतिम झलक पाने के लिये बेताब थे.


दिलीप सिंह जूदेव की अंतिम यात्रा में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजनाथ सिंह,राज्यपाल शेखर दत्त, मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉक्टर रमन सिंह, झारखण्ड के पूर्व मुख्यमंत्री अर्जुन मुंडा और राज्य मंत्रिमंडल के मंत्री अमर अग्रवाल, बृजमोहन अग्रवाल, राजेश मूणत, हेमचंद यादव, अजय चंद्राकर, लता उसेंडी, चंद्रशेखर साहू, धरमलाल कौशिक, रामविचार नेताम, पुन्नुलाल मोहले, अनुराग सिंह देव, कैलाश जोशी और नरेन्द्र सिंह तोमर, सांसद रमेश बैस सहित पड़ोसी राज्यों के भी कई विधायक और भाजपा नेता शामिल हुये.

गौरतलब है कि बिलासपुर के सांसद दिलीप सिंह जूदेव का लंबी बीमारी के बाद बुधवार को दिल्ली में निधन हो गया था. 8 मार्च 1942 को जन्मे बिलासपुर के सांसद दिलीप सिंह जूदेव की तबीयत पिछले कुछ दिनों से खराब चल रही थी. पिछले साल अक्टूबर में भी चिकित्सकों ने उन्हें आराम की सलाह दी थी. लेकिन दिसंबर में बड़े बेटे शत्रुंजय प्रताप सिंह जूदेव के निधन के बाद से वे शोकग्रस्त थे और उनकी तबीयत में कोई सुधार नहीं हो रहा था. बाद में उनकी मां के निधन के बाद वे अत्यंत शोकग्रस्त रहने लगे थे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!