हिमाचल के कांगड़ा में 4.5 तीव्रता का भूकंप

शिमला: हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले और उसके आसपास के क्षेत्रों में शनिवार देर रात भूकंप के हल्के झटके महसूस किए गए. रिक्टर पैमाने पर 4.5 तीव्रता वाले इस भूकंप में किसी भी तरह के जानमाल के नुकसान की खबर नहीं है.

रात के 11.20 को आए इस भूकंप का केंद्र कांगड़ा था और इसके झटके धर्मशाला, पालमपुर, ज्वालामुखी और आसपास के इलाकों में महसूस किए गए. उत्तराखंड में प्रकृति का कहर देख चुके लोग भूकंप के झटकों से दहशत में आ गए और काफी देर तक अपने घरों के बाहर ही रहे.


गौरतलब है कि कांगड़ा भूकंप के अति संवेदनशील ज़ोन पाँच में आता है और जिसके चलते यहां भयंकर भूकंप की आशंका हमेशा बनी रहती है लेकिन इस बार खतरा ज्यादा माना जा रहा है. राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (एनडीएमए) ने भी हिमाचल सरकार को इसके संबंध में चेतावनी जारी की है.

इससे पहले भी पिछले मंगलवार को लाहौल-स्पिति में भूकंप के हल्के झटके महसूस किए गए थे. जानकारों का मानना है कि यदि भूकंप 5 की तीव्रता से अधिक का होता तो इलाके में भयंकर तबाही मच सकती है.

उल्लेखनीय है कि कांगड़ा में ही देश के इतिहास में सबसे विनाशकारी 7.8 तीव्रता वाला भूकंप 1905 में आया था जिसमें बीस हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो गई थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!