इंडिया ओपन बैडमिंटन: पहले दौर में हारीं सिंधु

नई दिल्ली | एजेंसी: महिला एकल वर्ग में भारत की सबसे बड़ी उम्मीद पीवी सिंधु बुधवार को सीरी फोर्ट खेल परिसर में जारी 2,50,000 डॉलर इनामी इंडिया ओपन सुपर सीरीज बैडमिंटन टूर्नामेंट के पहले दौर में हार गईं.

सिंधु को विश्व की तीसरी और टूर्नामेंट की दूसरी वरीय चीनी खिलाड़ी शिजियान वांग ने 21-15, 12-21, 21-10 से हराया. यह मैच एक घंटा 9 मिनट चला.

सिंधु और इस साल ऑल इंग्लैंड ओपन खिताब जीतने वाली वांग के बीच यह चौथा मुकाबला था. इससे पहले तीनों बार सिंधु विजयी रही थीं.

महिला एकल से तृप्ति मुरगुंडे दूसरे दौर में पहुंच चुकी हैं और सायना नेहवाल को अभी कोर्ट पर उतरना है. महिला एकल में शेष सभी खिलाड़ी हार चुकी हैं. मिश्रित युगल में भी भारत को नाकामी मिली है. महिला युगल में ज्वाला गुट्टा और अश्विनी पोनप्पा दूसरे दौर में पहुंच गई हैं.

पुरुष एकल में पारूपल्ली कश्यप, गुरुसाई दत्त और सौरव वर्मा दूसरे दौर में जगह बनाने में सफल रहे हैं. इस वर्ग में एचएस प्रनॉय, अनूप श्रीधर, आनंद पवार और के. श्रीकांत, श्रेयांश जायसवाल और बी. साई प्रणीत को हार का सामना करना पड़ा है.

प्रनॉय को चीन के दूसरे वरीय चेन लोंग ने 21-15, 21-9 से हराया. प्रणीत को चीन के ही सातवें वरीय दू पेंगयू ने 16-21, 21-10, 21-19 से पराजित किया. इसी तरह क्वालीफायर श्रीधर को थाईलैंड के सेपान्यू ए. ने 21-13, 21-10 से हराया.

कश्यप पहले दौर की बाधा पार करने में सफल रहे. उन्होंने पहले दौर में चीन के छठे वरीय जेंगमिंग वांग को 21-12, 17-21, 21-12 से हराया. यह मैच पूरे एक घंटे चला.

इसी तरह मलेशिया ग्रां प्री गोल्ड के फाइनल में हारने वाले सौरव को रूस के ब्लादिमीर इवानोव के खिलाफ 21-16, 17-21, 21-14 से जीत मिली. सौरव ने यह मैच 47 मिनट में जीता.

श्रीकांत को जापान के ताकुमा उयेदा ने 21-18, 21-18 से हराया जबकि आनंद पवार को डेनमार्क के दिग्गज जान ओ जोर्गेनसेन ने 21-10, 19-21, 21-13 से हराया. यह मैच 1 घंटे छह मिनट चला.

गुरुसाई ने अपने पहले दौर के मुकाबले में चीनी ताइपे के तेन चेन चोउ को 17-21, 21-16, 21-17 से पराजित किया. क्वालीफायर श्रेयांश को फ्रांस के ब्राइस लेवेरदेज ने 21-15, 22-24, 21-13 से हराया.

इससे पहले, महिला एकल वर्ग में मुरगुंडे की एकमात्र सफलता के अलावा चार भारतीयों को बाहर का रास्ता देखना पड़ा. क्वालीफाईंग से मुख्य दौर में जगह बनाने वाली श्रुति मुंदादा, मुद्रा धैनजी के अलावा पीसी तुलसी और शैली राणे को हार का सामना करना पड़ा.

श्रुति को क्वालीफाईंग से मुख्य दौर में जगह बनाने वाली चीनी खिलाड़ी जिन लियू ने 21-12, 21-8 से हराया जबकि मुद्रा को भारत की ही तृप्ति मुरगुंडे ने पराजित किया. मुरगुंडे ने यह मैच एक घंटे दो मिनट में 24-22, 12-21, 21-18 से जीता.

तुलसी को जापान की शिजुका उचिदा ने 21-18, 17-21, 21-18 से हराया. इसी तरह शैली को जापान की मिनात्सु मितानी ने 21-16, 21-8 से हराया. शैली को 33 मिनट में हार मिली.

दिन की शुरूआत मिश्रित युगल वर्ग में भारतीय जोड़ियों की हार से हुई. मिश्रित युगल वर्ग से भारत की चुनौती समाप्त हो चुकी है. कुल आठ भारतीय जोड़ियां दावा पेश कर रही थीं लेकिन कोई भी आगे नहीं बढ़ सकी.

शुरूआत अभिजीत नैमपेल्ले और तृप्ती मुरगुंडे की हार के साथ हुई. अभिजीत और मुरगुंडे को चीनी ताइपे के हुंग लिंग चेन और वेन सिंग चेंग की जोड़ी ने 21-14, 21-5 से हराया.

इसके बाद गौरव वेंकट और जूही देवांगन को चीन के जुन कांग और युवानतिंग तांग ने 21-9, 21-5 से हराया. यह मैच 13 मिनट चला.

प्रनव जेरी चोपड़ा और मनीषा के. को थाईलैंड के सुदकेत प्रापाकामोल और साराली टी. ने 21-8, 20-22, 21-16 से हराया.

तरुण कोना और अश्विनी पोनप्पा को थाईलैंड के ही मानीपोंग जोंगजीत और सैपसिरी टी. ने 21-16, 21-19 से हराया. यह मैच 36 मिनट चला.

अक्षय देवाल्कर और प्रांद्या गडरे को दक्षिण कोरिया के बेक चोएल शिन और हे वोन इयोम की जोड़ी ने 28 मिनट में 21-16, 21-13 से मात दी.

कमलदीप सिंह और चित्रलेखा को डेनमार्क के आंद्रेस क्रिस्टियानसेन और जूली हूमान ने 21-11, 21-8 से हराया. यह मैच 21 मिनट चला.

भारत के शीर्ष मिश्रित युगल खिलाड़ियों में शामिल अरुण विष्णु और अपर्णा बालन को चीन के लू काई और हूआंग वाई. ने 21-13, 21-11 से हराया. यह मैच 24 मिनट में समाप्त हुआ.

अभिषेक अहलावत और कीर्ति दास को कोरिया के सुंग ह्यून को और हा ना किम की चौथी वरीय जोड़ी ने हराया. अभिषेक और कीर्ति इस मैच के लिए कोर्ट पर नहीं उतर सके. इस तरह वॉकओवर के जरिए कोरियाई जोड़ी दूसरे दौर में पहुंची.

महिला युगल में ज्वाला गुट्टा और अश्विनी पोनप्पा की जोड़ी दूसरे दौर में जगह बनाने में सफल रही है. इस जोड़ी ने पहले दौर में थाईलैंड की चालादचालान चायानित और पीराया मुनकितामोर्न को 56 मिनट के संघर्ष के बाद 21-19, 17-21, 21-14 से हराया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *