देखिये गाज़ा पर इजरायली हमला

गाजा | समाचार डेस्क: इजरायल ने हवाई हमले में गाजा में 30 अपार्टमेंट वाली एक रिहाइशी इमारत को ध्वस्त कर दिया. इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने रविवार को कहा कि गाजा में सैनिक अभियान इजरायल के सुरक्षा लक्ष्य हासिल होने तक जारी रहेगा.

इजरायल की ओर से शुरू किए गए आपरेशन प्रोटेक्टिव एज के तहत अभी तक 82,108 फिलिस्तीनी मारे जा चुके हैं और 10,660 घायल हुए हैं.

गाजा के स्वास्थ्य मंत्रालय के प्रवक्ता अशरफ अल-केद्रा ने संवाददाताओं से कहा कि रविवार को इजरायल के एक हवाई हमले में एक फिलिस्तीनी मारा गया और पांच अन्य घायल हो गए.

इजरायल की ओर से गाजा पर शनिवार को किए गए हवाई हमलों में दक्षिण गाजा पट्टी के रफाह शहर में एक छह मंजिला इमारत और एक व्यवसायिक भवन ध्वस्त हो गए. फिलिस्तीनी सुरक्षा सूत्रों ने यह जानकारी दी.

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, सुरक्षा सूत्रों ने बताया कि इजरायली लड़ाकू विमानों ने 30 अपार्टमेंट वाले जोरोब रिहायशी इमारत पर बम गिराकर उसे पूरी तरह ध्वस्त कर दिया.

इसके अलावा एक मॉल पर भी बम गिराकर उसे पूरी तरह ध्वस्त कर दिया गया.

सूत्रों ने हमले के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं दी. हमले में हताहत हुए लोगों के बारे में अभी जानकारी नहीं मिल पाई है.

इससे पहले, इजरायली लड़ाकू विमानों ने गाजा शहर में 13 मंजिला अल-जाफर अपार्टमेंट पर बम गिराकर उसे ध्वस्त कर दिया था. इजरायल का कहना है कि इस इमारत में हमास के नेताओं की बैठकें होती थीं, इसलिए उसे निशाना बनाया गया.

इस बीच, गाजा में हमास के प्रवक्ता सामी अबु जौहरी ने रिहायशी इमारतों पर हमले को युद्ध अपराध करार दिया और इजरायल के उन दावों को खारिज किया, जिनमें हमास के नेताओं द्वारा इमारतों के इस्तेमाल की बातें कहीं गई थीं.

उधर सीरिया से दागे गए पांच रॉकेट इजरायल के कब्जे वाले गोलन हाइट्स में गिरे. इजरायली सेना ने रविवार को यह जानकारी दी.

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, गोलन हाइट्स के रिहायशी इलाके में तीन रॉकेट फटे और दो रॉकेट खुले मैदान में गिरे.

सेना ने कहा कि हमले में कोई भी घायल नहीं हुआ है और नुकसान भी नहीं हुआ है.

ये रॉकेट हमले उत्तरी इजरायल में अपर गलीली में दक्षिणी लेबनान से किए गए हमले के कुछ ही घंटों बाद किए गए.

किसी भी संगठन ने इन हमलों की जिम्मेदारी नहीं ली है.

इस बीच इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने गाजा पट्टी पर हमले जारी रखने की बात दोहराई है.

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, तेल अवीव के किरया सैनिक मुख्यालय में मंत्रिमंडल की साप्ताहिक बैठक से पहले नेतन्याहू ने कहा कि जो लोग इजरायल की जनता पर फायरिंग कर रहे हैं उनमें से किसी को भी नहीं छोड़ा जाएगा.

शनिवार की रात लेबनान और सीरिया से उत्तरी इजरायल की तरफ दागे गए रॉकेट की ओर इशारा करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, “यह सभी मोर्चो के लिए सत्य है.”

नेतन्याहू ने कहा, “हम काम पूरा करने के लिए प्रतिबद्ध हैं और आपरेशन प्रोटेक्टिव एज अपना लक्ष्य पूरा होने तक जारी रहेगा.”

रविवार दोपहर दक्षिणी इजरायल के शहर हैनेगेव रीजनल काउंसिल में मोर्टार फटने से पांच इजरायली जख्मी हो गए जिनमें से एक की हालत गंभीर है.

इजरायल डिफेंस फोर्स के प्रवक्ता के मुताबिक, मध्य रात्रि से गाजा से इजरायल की तरफ 30 से ज्यादा राकेट दागे गए हैं. इनमें से अधिकांश का निशाना दक्षिणी इजरायल था.

जुलाई से जारी इजरायली हमले में अभी तक कम से कम 82,108 फिलिस्तीनी मारे जा चुके हैं और 10,660 घायल हुए हैं. कम से कम 68 इजरायली भी मारे गए हैं.

गाज़ा के 13 मंजिल इमारत पर मिसाइल से हमला

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *