शराब ने पुलिसकर्मी को भुलाई ड्यूटी

जशपुर | विशेष संवाददाता: दारु जो न कराए सो कम है. छत्तीसगढ़ के एक पूर्व मंत्री की सुरक्षा में लगे एक सिपाही को शराब की ऐसी तलब लगी कि वह यह बात ही भूल गया कि उसे पूर्व मंत्री जी के घर ड्यूटी भी बजानी है. शराब के नशे में ही उसने अपनी वर्दी उतारी और अपने एक दोस्त को वर्दी पहना कर ड्यूटी पर भेज दिया. दोस्त भी रायफल लेकर ड्यूटी पर तैनात भी हो गया. जब राज़ खुला तब दोनों को गिरफ्तार कर लिया गया.

मामला छत्तीसगढ़ के पूर्व मंत्री गणेश राम भगत से जुड़ा हुआ है. जशपुर निवासी संतोष भगत उनकी सुरक्षा में तैनात है. सोमवार को उसने अपने दो दोस्तों के साथ जमकर शराब पी और उन्हें लेकर ड्यूटी पर पहुँच गया. शराब के नशे के प्रभाव में उसने अपने दोस्त नीलेश केरकेट्टा को अपनी वर्दी पहनाई और रायफल पकड़ा कर अपना बैच नंबर बता दिया.


नीलेश भी उसके कहे अनुसार रायफल पकड़कर संतरी ड्यूटी में तैनात हो गया. कुछ देर बाद नए व्यक्ति को देखकर भगत के एक अन्य पीएसओ ने नीलेश से बैच नंबर पूछा. नीलेश ने घबराकर अपना बैच नंबर 787 बता दिया, जबकि संतोष भगत का बैच नंबर 722 था. शंका होने पर पीएसओ ने कड़ाई से पूछताछ की, जिस पर नीलेश केरकेट्टा ने सच्चाई बता दी.

पीएसओ ने मामले की जानकारी पूर्व मंत्री के निजी सचिव नारायण को दी और नारायण ने आरआई को घटना से अवगत कराया. इसके बाद आरआई और पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे और सो रहे आरक्षक संतोष और उसके मित्र नीलेश को गिरफ्तार कर लिया. एसपी मनीष शर्मा ने कहा कि जांच के दौरान अन्य दोषियों पर भी कार्रवाई की जाएगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!