हिंदी बोलने पर छात्रों की पिटाई

जशपुर | एजेंसी: छत्तीसगढ़ के जशपुर जिले के कुनकुरी का लोयला स्कूल एक बार फिर विवादों में घिरता नजर आ रहा है. स्कूल के छात्रों के अभिभावकों ने स्कूल में हिंदी बोले जाने पर छात्रों की पिटाई और साइकिल जब्त किए जाने की शिकायत बीईओ से की है.

इससे पहले भी स्कूल में होम वर्क नहीं किए जाने पर छात्रा की पिटाई और स्कूल का गेट बंद कर छात्रों को स्कूल में बंधक बनाए जाने के मामले पर बवाल हो चुका है. कुनकुरी के बीईओ एमजेडयू सिद्दीकी ने बताया कि मामले की शिकायत अभिभावकों द्वारा की गई है. संबंधित स्कूल प्रबंधन को तत्काल नोटिस जारी किया जा रहा है. नोटिस का जवाब आने के बाद उच्च अधिकारियों के निर्देशानुसार कार्रवाई की जाएगी.


जानकारी के मुताबिक, लोयला स्कूल में हिंदी बोले जाने को लेकर छात्रों को प्रताड़ित किए जाने का मामला उस वक्त उजागर हुआ जब इस स्कूल के दो छात्र यश वर्मा (पिता दीपक वर्मा) आकाश गुप्ता (पिता विजय गुप्ता) छुट्टी के बाद घर नहीं पहुंचे. इन छात्रों के अभिभावक जब बच्चों की खोज खबर लेने स्कूल पहुंचे तो यहां इन दोनों छात्रों के साथ कुछ अन्य छात्र स्कूल कैंपस में रोते हुए मिले.

अभिभावकों के पूछे जाने पर छात्रों ने बताया कि उन्हें कैंपस में हिंदी में बात करने के जुर्म में डंडे से पिटाई की गई और उनकी साइकिल भी जब्त कर ली गई.

स्कूल प्रबंधन ने अंग्रेजी के बजाय हिंदी में बात करते हुए पाए जाने पर पहली बार 20 डंडे और गलती दोहराने पर 40 डंडे की सजा तय कर दी है. पहले भी कई विद्यार्थियों को इस प्रकार की सजा दी चुकी है. लेकिन भविष्य बर्बाद होने के डर से इसकी शिकायत न तो विद्यार्थियों ने किया और न ही अभिभावकों ने.

पीड़ित छात्र के अभिभावक दीपक वर्मा और विजय गुप्ता ने मामले की शिकायत बीईओ कुनकुरी से की है. अभिभावकों की शिकायत को गंभीर बताते हुए बीईओ ने कहा कि लोयला स्कूल प्रबंधन को नोटिस जारी कर स्पष्टीकरण मांगा जाएगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!