केजरीवाल को सिर्फ सत्ता की फिक्र

रालेगण सिद्धी | समाचार डेस्क: अन्ना हजारे का कहना है कि अरविंद केजरीवाल को देश और समाज की नहीं सिर्फ सत्ता की फिक्र है. अन्ना न केजरीवाल के जनलोकपाल के मुद्दे पर इस्तीफा देने को गलत कदम बताते हुए कहा कि केजरीवाल जनलोकपाल के प्रति बिल्कुल भी गंभीर नहीं थे.

रालेगण सिद्धि में अन्ना ने कहा कि अगर जनलोकपाल पर संवैधानिक संकट था तो उसे भाजपा और कांग्रेस से बातचीत कर सुलझाया जा सकता था य़ा फिर उसे कुछ बदलावों के साथ पास कराया जा सकता था.


अन्ना ने यह भी कहा है कि उन्होंने कभी आम आदमी पार्टी को आशीर्वाद नहीं दिया है क्योंकि उनका आशीर्वाद सिर्फ देश का भला सोचने वालों के लिए है न कि सत्ता के भूखे लोगों के लिए.

अन्ना ने आप के द्वारा जारी भ्रष्ट नेताओं की लिस्ट पर तंज करते हुए कहा कि ऐसी हवा-हवाई लिस्टों से कुछ हासिल नहीं होगा. इन नामों के साथ सुबूतों को भी पेश करना चाहिए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!