मान गये केजरीवाल

नई दिल्ली | समाचार डेस्क: आम आदमी पार्टी के नेता अरविंद केजरीवाल मुचलका भरने के लिये तैयार हो गये. कई दिनों तक अपनी बात पर अड़े रहे अरविंद केजरीवाल इस बात के लिये राजी हो गये कि वे अपनी ज़मानत के लिये मुचलका भरेंगे. इसके साथ ही उनके जेल से बाहर आने का रास्ता साफ हो गया. भाजपा नेता और केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी से जुड़े मानहानि के मामले में जेल में बंद आम आदमी पार्टी के नेता केजरीवाल इससे पहले निचली अदालत में जमानत का मुचलका भरने के लिये तैयार नहीं हुये थे.

गौरतलब है कि आम आदमी पार्टी के नेता को छह जून तक न्यायिक हिरासत में भेजा गया था. उनके ख़िलाफ़ भारतीय जनता पार्टी के पूर्व अध्यक्ष नितिन गडकरी ने मानहानि का मामला दायर किया था.


केजरीवाल ने दस हज़ार रुपए का ज़मानती मुचलका भरने से इनकार कर दिया था, जिसके बाद उन्हें 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया था.

इस मामले में सोमवार को वकील शांति भूषण और प्रशांत भूषण ने हाईकोर्ट में याचिका लगाई थी कि अरविंद केजरीवाल को ग़ैरक़ानूनी तरीके से जेल में रखा गया है. इस याचिका में दिल्ली की निचली अदालत के आदेश को भी ग़लत ठहराया था.

मंगलवार को जब इस मामले की सुनवाई शुरु हुई तो न्यायमूर्ति कैलाश गंभीर और सुनीता गुप्ता ने कहा कि इस मामले को अरविंद केजरीवाल ‘प्रतिष्ठा का सवाल’ क्यों बना रहे हैं? उन्होंने शांति भूषण और प्रशांत भूषण से कहा कि वे पहले तिहाड़ जेल जाकर केजरीवाल से बात करें और ज़मानत की अर्ज़ी दायर करें. इसके बाद दोनों अधिवक्ता तिहाड़ पहुंचे और इस मामले में केजरीवाल से मुचलका भरने पर उनकी सहमति ली.इसके बाद अरविंद केजरीवाल के बाहर आने का रास्ता साफ हो गया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!