लापता मलेशियाई विमान का कुछ सुराग नहीं

कुआलालम्पुर | एजेंसी: मलेशिया के नागरिक उड्डयन विभाग के महानिदेशक ने सोमवार को कहा कि शनिवार को लापता हुए विमान का अब भी कोई सुराग नहीं मिल पाया है.

इस बीच समुद्र में खोज के दौरान कुछ मलबा मिला है लेकिन यह बीजिंग के लिए रवाना हुए मलेशिया एयरलाइंस विमान का है, इसकी पुष्टि नहीं हुई है.


समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, नागरिक उड्डयन विभाग के महानिदेशक अजहरुद्दीन अब्दुल रहमान ने संवाददाता सम्मेलन में कहा, “खोजी दल को अब तक कोई ऐसी चीज नहीं मिली है, जिससे कहा जा सके कि विमान समुद्र में डूबा है.”

मलेशिया एयरलाइंस का विमान एमएच 370 जिसमें 239 लोग सवार थे, शनिवार रात मलेशिया की राजधानी कुआलालंपुर से बीजिंग के लिए उड़ान भरी थी. लेकिन वियतनाम के हो ची मिन्ह हवाई क्षेत्र से गुजरते हुए उसका हवाई यातायात नियंत्रण कक्ष से संपर्क टूट गया, जिसके बाद से विमान का कुछ पता नहीं चल पा रहा है.

रहमान ने कहा कि वियतनामी प्रशासन ने विमान एमएच 370 का कोई टुकड़ा मिलने की पुष्टि नहीं की है.

उन्होंने कहा कि इस समय विभिन्न देशों के 34 विमान और 40 जलयान बड़े दायरे में तलाश और बचाव कार्य में जुटे हुए हैं. विमान के तलाशी अभियान में चीन, मलेशिया, सिंगापुर, इंडोनेशिया, अमेरिका, थाईलैंड, आस्ट्रेलिया और फिलिपींस भागीदारी कर रहे हैं.

रहमान ने कहा कि वह हैरान हैं कि विमान के साथ ऐसा क्या हुआ कि वह गायब हो गया और कोई ठोस सबूत नहीं मिल रहा है, जिसकी किसी निष्कर्ष पर पहुंचने के लिए सख्त जरूरत है. उन्होंने कहा कि विमान का पता लगाने के लिए अभी काफी और प्रयास करने होंगे.

विमान की तलाश के लिए अभियान दक्षिण चीन सागर में चलाया जा रहा है. वियतनामी नौसेना के एक विमान ने कुछ चीजें ढूंढ़ निकाली हैं, जिसमें विमान के दरवाजे की तरह दिखने वाली एक वस्तु भी है जो दक्षिण-पश्चिम वियतनाम से लगभग 50 किलोमीटर की दूरी पर तैरती मिली.

मलेशियाई अधिकारियों ने संदेह जताया है कि विमान को गायब करने में अंतर्राष्ट्रीय आतंकवादियों का हाथ हो सकता है. इसमें उन लोगों की संलिप्तता हो सकती है जिन्होंने लापता विमान में सवार कुछ यात्रियों के फर्जी और अवैध पासपोर्ट होने की खबर दी.

ज्ञात हो कि दो यूरोपीय नागरिक जिनकी पहचान मलेशियाई विमान के फर्जी यात्रियों के रूप में की गई, कथित रूप से उनके पासपोर्ट थाईलैंड में खो गए थे. कयास लगाया जा रहा है कि कुछ अन्य यात्रियों ने अवैध पासपोर्ट का इस्तेमाल किया होगा.

मलेशियाई एयरलाइंस के विमान ने शनिवार की रात 12.41 बजे कुलाआलंपुर से उड़ान भरी थी. उसे सुबह 6.30 बजे बीजिंग में उतरना था. विमान में चालक दल के 12 सदस्यों के साथ 14 देशों के 227 यात्री सवार थे. इनमें 154 चीनी नागरिक थे और भारत के पांच यात्री सहित मलेशिया के 38 लोग सवार थे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!