नरेन्द्र मोदी नंबर वन

बीजिंग | समाचार डेस्क: प्रधानमंत्री मोदी ने दुनिया के नंबर वन नेता का पद हासिल कर लिया है. भारत के प्रदानमंत्री नरेन्द्र मोदी को यह स्थान घरेलू तथा विदेशी मामलों से निपटने के मामले में दिया गया है. यह अध्धयन चीन में किया गया है जबकि खुद चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग घरेलू तथा विदेशी मामलों के निपटाने के मामले में मोदी से पिछड़ गये हैं. उल्लेखनीय है कि भारत के प्रधानमंत्री मोदी ने शपथ ग्रहण करते ही विदेशी मोर्चे पर ध्यान देना शुरु कर दिया था तथा चीन, जापान, अमरीका जैसे बड़े देशों से संबंध सुधारे तथा भारत के महत्व से सबको परिचित करा दिया. वहीं, घरेलू मोर्चे पर प्रधानमंत्री मोदी ने अपने पार्टी, संसद तथा देश की राजनीति में अपने विरोधियों को मात दे दी. इसी कारण सेवल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को घरेलू व अंतर्राष्ट्रीय मामलों से निपटने में दुनिया का सबसे बेहतरीन नेता बताया गया है. रैंकिंग में चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग भी उनसे पिछड़ गए हैं. एक अध्ययन में यह खुलासा हुआ है.

समाचार पत्र चाइना डेली के मुताबिक चाइना इंटरनेशनल पब्लिशिंग ग्रुप के उपाध्यक्ष वांग गांग्यी ने कहा, “घरेलू व अंतर्राष्ट्रीय मुद्दों से निपटने के लिए शी जिनपिंग को बेहद प्रशंसा मिली है. लेकिन भारत के नवनियुक्त प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के घरेलू व अंतर्राष्ट्रीय मामलों से निपटने के कौशल के मद्देनजर वह दूसरे स्थान पर खिसक गए हैं.”


चीन का नेशनल इमेज ग्लोबल सर्वेक्षण 2014 का निष्कर्ष बीजिंग में बुधवार को जारी हुआ. इस सर्वेक्षण को संयुक्त रूप से मिलिवार्ड ब्राउन के सेंटर फॉर इंटरनेशनल कम्युनिकेशन स्टडीज ऑफ चाइना फॉरेन लैंग्वेज पब्लिशिंग एडमिनिस्ट्रेशन तथा लाइटस्पीड जीएमआई द्वारा अंजाम दिया गया था.

यह सर्वेक्षण बीते साल नौ देशों के 4,500 उत्तरदाताओं की प्रतिक्रिया पर आधारित था. इन नौ देशों में अमरीका, ब्रिटेन, ऑस्ट्रेलिया, जापान, दक्षिण अफ्रीका, भारत, रूस, ब्राजील तथा चीन हैं.

सर्वेक्षण में यह बात सामने आई कि चीन की समग्र छवि को वैश्विक समुदाय द्वारा अनवरत तौर पर स्वीकार किया गया, हालांकि चीन की वैश्विक छवि पर विदेशी उत्तरदाता बंटे दिखे.

अध्ययन के अनुसार, साल 2014 में चीन की राष्ट्रीय छवि का औसत अंक एक से 10 के बीच 5.9 था, जबकि इसके पहले यह 5.1 था.

सर्वेक्षण में पाया गया कि नौ देशों के बेहतरीन नेताओं में शी का स्थान चौथा था, जिसमें 70 फीसदी उत्तरदाताओं ने उनके बारे में सुन रखा था, इसके बाद अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा 97 फीसदी, रूसी राष्ट्रपति ब्लादीमिर पुतिन 91 फीसदी तथा ब्रिटिश प्रधानमंत्री डेविड कैमरन 86 फीसदी हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!