पीएमटी घोटाले के तार भाजपा से जुड़े: कांग्रेस

भोपाल | एजेंसी: मध्य प्रदेश कांग्रेस ने राज्य में पीएमटी परीक्षा में हुए फर्जीवाड़े की जांच सीबीआई से कराने की मांग करते हुए आरोप लगाया है कि इसके तार सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी के लोगों से जुड़े हैं. विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने विद्यार्थियों के भविष्य के साथ खिलवाड़ करने को दु:खद बताते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से पीएमटी घोटाले की जांच सीबीआई से कराने की मांग की है.

अजय सिंह ने कहा कि जिस प्रदेश में पढ़ाई की जगह नोट लेकर शिक्षा देने का गोरखधंधा चल रहा है. उस प्रदेश का भविष्य निर्माण किस तरह हो रहा है, यह इस कांड के उजागर होने से पता चलता है. उन्होंने आरोप लगाया कि पीएमटी घोटाला कांड में भाजपा सरकार के शीर्ष से लेकर नीचे तक के लोग जुड़े हैं. सीबीआई जांच से ही उनके नाम और काम उजागर होंगे.


नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि युवा पंचायत कर उनके हितैषी बनने और रोजगार उपलब्ध कराने के दावे तो मुख्यमंत्री करते हैं लेकिन उनकी शिक्षा और भविष्य के मामले में सरकार किस तरह खिलवाड़ कर रही है इसका उदाहरण है पीएमटी प्रवेश परीक्षा में होने वाला घोटाला.

उन्होंने कहा कि इस घोटाले की जो परतें खुल रही हैं वे इस बात की ओर इशारा करती हैं कि इसके तार सीधे सत्ता के शीर्ष पर बैठे हुए लोगों और भाजपा से जुड़े हुए हैं.

नेता प्रतिपक्ष ने शिवराज सिंह सरकार से कई सवाल किए हैं. उन्होंने पूछा है कि पीएमटी परीक्षा आयोजित करने वाले व्यावसायिक परीक्षा मंडल के परीक्षा नियंत्रक डॉ़ पंकज त्रिवेदी किस मंत्री के रिश्तेदार हैं? पीएमटी परीक्षा की प्रश्न-उत्तरी किस भाजपा पदाधिकारी के प्रेस में छपती थी? और वह वर्तमान में किस सरकारी संस्था का पदाधिकारी है? और क्या यह पदाधिकारी प्रदेश के मुखिया का विश्वास पात्र है?

उन्होंने यह भी पूछा है कि पीएमटी घोटाले के मुख्य अभियुक्त डॉ़ जगदीश सागर किस पार्टी से जुड़े हैं और पिछले दिनों सत्ता और भाजपा संगठन के कौन से पदाधिकारी अपने इंदौर प्रवास के दौरान इनके घर खाना खाने गए थे?

नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि इसके अलावा कई सवाल ऐसे हैं जो इस पूरे मामले के पीछे सत्तारूढ़ पार्टी के कनेक्शन को उजागर करते है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!