कांग्रेस पर भड़के मोदी

नई दिल्ली: भारतीय जनता पार्टी की महामंथन में गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार को कांग्रेस सरकार पर जम कर बरसे. उन्होंने कहा की कांग्रेस एक परिवार की पार्टी है और इस परिवार के चलते ही पार्टी हर जगह नाइटवॉच मैन बिठाती है. मोदी ने प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह का नाम लिए बिना कहा कि इस बार रात इतनी लंबी होगी, ये देश की जनता ने सोचा नहीं था. मोदी ने कहा कि अंधेरा बहुत घना है, लेकिन दीया जलाना कहां मना है.

नरेंद्र मोदी ने कहा कि देश को कांग्रेस का दीमक लगा है, हम जानते हैं कि दीमक को मिटाना काफी मुश्किल भरा काम है. इधर से खत्म करो तो उधर आ जाते हैं, लेकिन इसका इलाज है. हम भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं का पसीना इस दीमक को खत्म कर सकता है.


नरेंद्र मोदी ने अपने भाषण में कहा कि मौजूदा सरकार से देश की जनता निराश हो चुकी है. अगर प्रणब मुखर्जी देश के प्रधानमंत्री होते तो इतनी मुश्किलें नहीं होतीं लेकिन गांधी परिवार के चलते ही प्रणब मुखर्जी को प्रधानमंत्री नहीं बनने दिया गया.

नरेंद्र मोदी ने कहा कि गुजरात की जीत वहां की जनता की जीत है, देश के लाखों कार्यकर्ताओं की जीत है और राष्ट्रीय नेतृत्व के मार्गदर्शन की जीत है. उन्होंने कहा कि हमारे रहते हुए हिंदुस्तान के तख्त पर ऐसी सरकार हो, हमें मंजूर नहीं. मैं राजनीतिक अनुभव के आधार पर कहता हूं कि देश की जनता ने कांग्रेस सरकार को फेंकने का फ़ैसला कर लिया है.

मोदी ने कांग्रेस की आलोचना करते हुये कहा कि कांग्रेस पार्टी ने देश को डूबोने का काम किया है. गरीब के घर में चूल्हा नहीं जल रहा है. महंगाई इतनी बढ़ चुकी है. उन्होंने कांग्रेस पार्टी को कमीशन पार्टी बताते हुये कहा कि हर काम के लिए कमीशन तय है. एक परसेंट, दो परसेंट, तीन परसेंट, इसका, उसका, भतीजा का, साले का, साली का. भाषण के दौरान जब कार्यकर्ताओं ने कमीशन लेने वालों में दामाद का नाम भी शामिल करने की बात कही तो मोदी ने हंसते हुये कहा कि मेरी गृहस्थी नहीं है तो मैं नाते रिश्तों में कुछ नाम भूल जाता हूं.

भाजपा कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुये नरेंद्र मोदी ने कहा कि अब वक्त आ गया जब आप फ़ैसला करें कि आप मिशन वाली पार्टी के साथ हैं या फिर कमीशन वाली पार्टी के साथ. कांग्रेस की सरकार को उखाड़ फेंकना आजादी की लड़ाई जितना ही महत्वपूर्ण काम है और इसके लिए हर किसी को आगे आकर सहयोग देना होगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!