राहुल बाबा के बोल से बवाल

भोपाल | एजेंसी: इंदौर में दिये राहुल गांधी के भाषण से विवाद की स्थिति उत्पन्न हो गयी है. भाजपा इस बात की शिकायत चुनाव आयोग से करने जा रही है. समाजवादी पार्टी ने पूछा है कि संवेदनशील खुफिया जानकारी राहुल गांधी को कैसे मिली.

इंदौर के दशहरा मैदान में आयोजित सभा में मुजफ्फरनगर दंगो के बाद के हालात पर चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि ‘ परसो मेरे दफ्तर में एक भारतीय गुप्तचर अधिकारी आया, उसने मुझे बताया कि पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी के लोगो ने मुजफ्फरनगर के उन 10-15 मुसलमान लड़को से बात करके उन्हे बरगलाना शुरु कर दिया है, जिनके भाई बहन दंगो में मारे गये हैं ‘.

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने बात को स्पष्ट करते हुए आगे कहा कि ‘ भारतीय गुप्तचर अधिकारी ने मुझे बताया कि वह मुजफ्फरनगर के इन दंगा पीड़ित लड़को को समझा रहा है कि वे पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी के लोगो की बातों में न आये.’

अब भाजपा इस बात को मुद्दा बना रही है कि राहुल गांधी ने भारत के मुसलमानो पर आईएसएई का ठप्पा लगा दिया है. उधर उत्तर प्रदेश बीजेपी के अध्यक्ष लक्ष्मीकांत वाजपेयी ने इस बयान पर सीबीआई जांच की मांग की है. उन्होंने कहा कि राहुल गांधी ने अपने बयान में खुफिया विभाग के अधिकारियों से जानकारी मिलने की बात कही. मैं जानना चाहता हूं कि किस अधिकार के तहत आईबी अधिकारी ने राहुल को ये गोपनीय जानकारी दी.

इस बात के अलावा राहुल गांधी ने भारतीय जनता पार्टी साथ मध्य प्रदेश की सरकार पर तीखा प्रहार किया. उन्होंने भाजपा और कांग्रेस में बड़ा फर्क बताते हुए कहा है कि भाजपा अधोसंरचना की बात करती है वहीं कांग्रेस का लक्ष्य आम आदमी को ताकतवर बनाना है. मध्य प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले गुरुवार को राहुल गांधी का दूसरा दौरा था.

इंदौर के दशहरा मैदान की सभा में गांधी ने कहा कि कांग्रेस और भाजपा में बड़ा फर्क है. वे कहते हैं कि सड़कें बनाने से आम आदमी का जीवन बदल जाएगा, वे शाइनिंग इंडिया की बात करते हैं, वहीं कांग्रेस आम आदमी को शक्ति देना चाहती है.

कांग्रेस की नेतृत्व वाली सरकार द्वारा जनहित में किए गए कार्यो का ब्योरा देते हुए उन्होंने कहा कि जनता को सूचना का अधिकार, जवाहर लाल नेहरु शहरी मिशन, महात्मा गांधी रोजगार गारंटी जैसी योजनाएं मिली है. यह देश सड़क से नहीं जनता से बनती है, इसलिए उसे शक्ति देना है.

उन्होंने उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में भड़के दंगों के लिए भाजपा को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा कि हम कहते हैं कि देश को आगे ले जाना है सभी को साथ लेकर आगे बढना है, वहीं वे कहते हैं कि हिदुस्तान की जनता को एक दूसरे से लड़ाना है. मैं मुजफ्फरनगर गया था तो वहां के हिंदू-मुस्लिम वर्ग के लोगों से मिला, उन्होंने बताया कि उनमें आपस में कोई लड़ाई नहीं है, कुछ लोगों ने लड़ाई करवाई और आग लगाई.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *