नवाज़ ने नियुक्त किये 22 कश्मीर दूत

इस्लामाबाद | समाचार डेस्क: पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ़ ने कश्मीर के मुद्दे को हवा देने के लिये 22 सांसदों को दूत के तौर पर नियुक्त किया है. नवाज़ शरीफ़ की मंशा है कि ये 22 दूत दुनियाभर में कश्मीर में हो रहे कथित अत्याचार तथा माववाधिकार उल्लंघन के मुद्दे को दुनिया के सामने अलग-अलग मंचों से रखे. जाहिर है कि नवाज़ शरीफ का यह कदम उसकी भारत के साथ तल्खी को और बढ़ाने का काम ही करेगा.

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ़ के कार्यालय से जारी एक बयान में कहा गया है, “मैंने कश्मीर की लड़ाई को दुनिया के अलग अलग हिस्सों तक ले जाने के लिए इन सांसदों को भेजने का फ़ैसला किया है. इनके साथ पाकिस्तान के लोगों की ताक़त, नियंत्रण रेखा के उस पार कश्मीरी लोगों की दुआएं, संसद का जनादेश और सरकार का समर्थन हासिल है.”

नवाज़ शरीफ़ ने कहा, “मैं इनके साथ खड़ा हूं ताकि सितंबर में होने वाली संयुक्त राष्ट्र की बैठक में अपने भाषण से अंतरराष्ट्रीय समुदाय के ज़मीर को हिला सकूं.”

पाकिस्तानी प्रधानमंत्री ने कहा, ”हम संयुक्त राष्ट्र को कश्मीरी लोगों के स्वनिर्णय का अधिकार देने के पुराने वायदे की याद दिलाएंगे.” ”हम भारत को याद दिलाएंगे कि भारत ही कई दशकों पहले कश्मीर के मुद्दे को संयुक्त राष्ट्र में ले गया था और अब अपने वादे से मुकर रहा है. कई पीढ़ियों से कश्मीरियों ने सिर्फ टूटे वादे और क्रूर उत्पीड़न देखे हैं.”

उल्लेखनीय है कि कश्मीर में हिज़्बुल कमांडर बुरहान वानी की मौत के बाद हिंसक प्रदर्शनों में कई लोगों की मौत हो चुकी है. भारत ने इसे पाकिस्तान का हस्तक्षेप करार दिया और प्रधानमंत्री मोदी बलूचिस्तान का मुद्दा भी उठा चुके हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *