नक्सलियों के गढ़ में ‘सत्यमेव जयते’

सिद्धार्थनगर | एजेंसी: नक्सलियों के गढ़ में अभिनेता आमिर खान के जाने से ‘सत्यमेव जयते’ का नारा गूंज उठा. गौरतलब है कि आमिर खान यूनिसेफ के एक कार्यक्रम में भाग लेने उत्तर प्रदेश के इस माओवादी गढ़ कहे जाने वाले कपिलवस्तु के पकड़ी ग्राम पंचायत में पहुंचे थे. उल्लेखनीय है कि उत्तर प्रदेश में जिस क्षेत्र की पहचान अब तक माओवादियों के गढ़ के रूप में होती थी और जहां के ग्रामीण अपने क्षेत्र का नाम लेने से भी हिचकते थे, वहां गुरुवार को जब आमिर खान जैसा फिल्मी दुनिया का बड़ा सितारा पहुंचा और लोगों से खुले दिल से बातचीत की, तो लोग न सिर्फ चहक उठे, बल्कि उन्हें अपने अच्छे दिन आने की भी उम्मीद जग गई.

आमिर से मुलाकात के बाद सिद्धार्थनगर क्षेत्र के ग्रामीणों को लगने लगा कि शायद इस बड़े फिल्मी सितारे के आने से क्षेत्र को नई पहचान मिलेगी और शासन प्रशासन का ध्यान क्षेत्र की बदहाली दूर करने की ओर हो सकेगा. मामला सेमरौटी गांव से जुड़ा है. जहां आमिर खान के पहुंचने से युवाओं में काफी उत्साह दिखा.


कुछ युवाओं ने तो ‘सत्यमेव जयते’ के नारे भी लगाए. वहीं कुछ ने इस गांव को ‘सत्यमेव जयते’ में दिखाने का आग्रह आमिर से किया. कपिलवस्तु के पकड़ी ग्राम पंचायत का सेमरौटी नेपाल में जनयुद्ध के दौरान माओवादियों का गढ़ रहा है. यहां के लोग सेना और सुरक्षा कर्मचारियों से यह बताने से डरते थे कि वे इस गांव के रहने वाले हैं. इस गांव ने माओवाद को तराई क्षेत्र में पहचान दिलाने का काम किया था.

इस गांव में पहली बार ऐसा आयोजन यूनिसेफ ने किया. गांव में जैसे ही आमिर खान पहुंचे उत्साहित कुछ युवकों ने ‘सत्यमेव जयते’ का नारा लगाया. यह सुनकर आमिर भी गदगद हो गए. वहीं कुछ लोगों ने गांव के इतिहास के बारे में आमिर खान को बताया. उन्होंने क्षेत्र के बेहद पिछड़े होने की भी जानकारी आमिर को दी.

ग्रामीणों ने आमिर से गांव को भी ‘सत्यमेव जयते’ में दिखाने की भी गुजारिश की, जिससे गांव की बदहाली की ओर जिम्मेदारों का ध्यान आकर्षित हो सके. आमिर ने उन्हें इस दिशा में कोशिश करने का भरोसा दिया. ज्ञात्वय है कि अभिनेता आमिर खान का टीवी शो ‘सत्यमेव जयते’ काफी लोकप्रिय है. इसका अंदाज इसी से लगाया जा सकता है कि आमिरकान के पहुंचते ही लोगों ने ‘सत्यमेव जयते’ का नारा लगाया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!