भारत-नेपाल के बीच गैस पाइपलाइन बिछेगा

काठमांडू | एजेंसी: नेपाल को एलपीजी तथा प्राकृतिक गैस की आपूर्ति के लिए भारत वहां तक पाइपलाइन बिछाने की संभावनाओं की तलाश करेगा. दोनों पड़ोसी देशों ने पाइपलाइन बिछाने पर सहमति जता दी है. बुधवार को यहां एक बयान में यह जानकारी दी गई. राष्ट्रीय राजधानी में भारत के पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्री धर्मेद्र प्रधान तथा नेपाल के वाणिज्य एवं आपूर्ति मंत्री सुनील बहादुर थापा के बीच इस सप्ताह के प्रारंभ में हुई बैठक के दौरान नेपाल में एलपीजी तथा प्राकृतिक गैस की पाइपलाइन बिछाने की संभावनाओं के अध्ययन के लिए दिल्ली ने अपने तकनीकी दल को नेपाल भेजने की सहमति जता दी है.

प्रधान ने थापा को इस बात से आश्वस्त किया कि नेपाल को बिना किसी बाधा के पर्याप्त मात्रा में एलपीजी उपलब्ध कराया जाएगा.

नेपाल पेट्रोलियम उत्पादों, एलपीजी तथा गैस आपूर्ति के लिए पूर्णतया भारत पर निर्भर है.

भारत सरकार ने बिहार के बरौनी स्थित इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन रिफायनरी को नेपाल को अधिक मात्रा में एलपीजी देने का निर्देश दिया है. रिफायनरी फरवरी से हर महीने 30 हजार टन एलपीजी की आपूर्ति करेगी. फिलहाल नेपाल को हर महीने 22 हजार टन एलपीजी की आपूर्ति की जाती रही है.

नेपाल के अधिकारियों ने कहा कि एलपीजी की मांग में लगातार हो रही वृद्धि के मद्देनजर ही देश पाइपलाइन बिछाने को सबसे बेहतर विकल्प मान रहा है.

नेपाल की राष्ट्रीय जनसंख्या एवं आवास जनगणना, 2011 के अनुसार 21.03 फीसदी नेपाली परिवार एलपीजी का इस्तेमाल करते हैं. शहरों में यह आंकड़ा 67.68 फीसदी है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *