नितिन गडकरी, दिल्ली में रहेंगे

ई दिल्ली | एजेंसी: नितिन गडकरी ने महाराष्ट्र के बजाये दिल्ली में रहने की इच्छा जाहिर की है. जिसका तात्पर्य यह निकलता है कि नितिन गडकरी महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पद के रेस में शामिल नहीं हैं. गौरतलब है कि 288 सदस्यों वाली विधानसभा में भाजपा को 122 सीटें मिली हैं तथा सबसे बड़ी पार्टी होने के कारण, राज्यपाल द्वारा निश्चित तौर पर भाजपा को मंत्रिमंडल बनाने के लिये तथा बहुमत साबित करने के लिये बुलाया जायेगा. शिवसेना से चुनाव पूर्व गठबंधन टूट जाने के बाद अब चुनाव के बाद की स्थिति में शिवसेना कुछ नरम पड़ी है. अब शिवसेना, भाजपा के साथ सरकार बनाने के लिये तैयार होती जा रही है. इससे, राजनीतिक हल्को में इस बात के कयास लगाये जा रहें हैं कि नितिन गडकरी को मुख्यमंत्री बनाने से गठबंधन की सरकार बेहतर तरीके से चलेगी.

केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने गुरुवार को फिर दोहराया कि वह महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पद की दौड़ में शामिल नहीं हैं. गडकरी ने मीडिया से कहा, “मैंने यह पहले ही साफ कर दिया है कि मैं दिल्ली में ही रहना चाहता हूं.”


उनका बयान उन खबरों के बीच आया है जिसमें यह कहा गया था कि महाराष्ट्र में भाजपा के कुछ विधायक गडकरी को मुख्यमंत्री बनते देखना चाहते हैं.

गडकरी के नाम का प्रस्ताव सबसे पहले पूर्व मंत्री सुधीर मंगंतिवार ने रखा था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *