अत्यधिक बारिश से गली सैकड़ों एकड़ फसल

पत्थलगांव | संवाददाता: टमाटर उत्पादन के लिए छत्तीसगढ़ में अलग पहचान रखने वाला पत्थलगांव में बीते एक पखवाड़े से लगातार हो रही बारिश ने टमाटर की तैयार और नई फसल के फूल को नुकसान पहुंचाया है. पकने से पहले ही टमाटर की फसलें गलने लगी है. इलाके में हालात ऐसे हैं कि इससे टमाटर की पैदावार पर भारी प्रभाव पड़ना निश्चित है.

पत्थलगांव के किसानों का कहना है कि टमाटर की नई फसल पर आए फूल भी झड़कर खेतों में बिखरने लगे हैं. जिससे एक साथ दोहरा नुकसान उठाना पड़ रहा है. इसीलिए उन्हें अब अपने कर्ज की चिंता भी सताने लगी है.


इलाके के उद्यान अधीक्षक प्रकाश सिंह भदौरिया ने बताया कि टमाटर की अधिक मात्रा में पैदावार लेने वाले किसानों के लिए फसल बीमा की कोई योजना नहीं है. उन्होंने कहा कि बीते एक पखवाड़े से अनवतरत हो रही बारिश के चलते यहां पर टमाटर और उड़द की फसल को काफी नुकसान होने की संभावना है.

श्री भदौरिया ने कहा कि इस बार नवम्बर में आने वाली टमाटर की फसल बाजार में विलंब से पहुंचेगी. विजय त्रिपाठी नामक किसान ने बताया कि इस फ सल के लिए बीज, खाद और मजदूरी पर अच्छा खासा खर्च करने के बाद अब खेतों में कुछ नहीं बचा है. गौरतलब है कि इसके पहले भी यहां के किसानों व्दारा गरमी में लगाई गई टमाटर की पहली फसल भी अधिक बारिश से खराब हो गई थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!