टीडीपी और भाजपा गठबंधन में दरार

नई दिल्ली | संवाददाता: आंध्र प्रदेश में भाजपा और टीडीपी का गठबंधन टूट के कगार पर पहुंच गया है. एक तरफ जहां सरकार में शामिल भाजपा नेताओं ने इस्तीफा दे दिया है, वहीं दूसरी ओर माना जा रहा है कि केंद्र सरकार में शामिल टीडीपी के मंत्री इस्तीफा दे देंगे. गुरुवार को भाजपा के दो मंत्रियों कामिनेनी श्रीनिवास और माणिक्याला राव ने अपना इस्तीफा विधानसभा अध्यक्ष को सौंप दिया.

इसके बाद मुख्यमंत्री चंद्रा बाबू नायडू ने विधानसभा में इसकी घोषणा करते हुये दोनों मंत्रियों के कामकाज की प्रशंसा की. उन्होंने कहा कि अब उनकी बारी है और केंद्र में टीडीपी के कोटे के मंत्री आज केंद्र सरकार से इस्तीफा दे देंगे. माना जा रहा है कि गुरुवार को केंद्रीय मंत्री अशोक गणपति राजू और वाई एस चौधरी लोकसभा और राज्यसभा में अपना बयान दे सकते हैं, उसके बाद दोनों मंत्री इस्तीफा दे देंगे.


टीडीपी और उसके नेता चंद्रा बाबू नायडू पिछले कई महीनों से आंध्र प्रदेश को विशेष दर्जा देने की मांग कर रहे हैं. लेकिन पर अड़ी टीडीपी एनडीए से अलग होने की कगार पर है. चंद्राबाबू नायडू का कहना है कि तेलंगाना अलग राज्य बनने से उन्हें काफी आर्थिक नुकसान हुआ है. ऐसे में केंद्र को इसे विशेष राज्य का दर्जा दे कर आर्थिक मदद करना चाहिये.

बुधवार को पत्रकारों से बातचीत करते हुये चंद्राबाबू नायडू ने कहा था कि केंद्र सरकार ने आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा देने का वादा नहीं निभाया है. जिसके चलते हमने केंद्र सरकार से अलग होने का फैसला किया है. नायडू ने ये भी कहा कि वो सत्ता के भूखे नहीं हैं, उन्हें राज्य की जनता की चिंता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!