राहुल देशद्रोहियों के साथ खड़े: जेटली

मथुरा | समाचार डेस्क: अरुण जेटली ने रविवार को कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी पर जमकर निशाना साधा. जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय मामले को लेकर जेटली ने कहा कि राहुल गांधी वह कर गए, जो आज तक राजीव गांधी और नेहरू ने भी नहीं किया. वह देशद्रोही नारे लगाने वालों से सहानुभूति दिखाने के लिए उनके साथ खड़े हो गए. उप्र के मथुरा में आयोजित भारतीय जनता युवा मोर्चा के राष्ट्रीय अधिवेशन में कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए जेटली ने कहा, “ऐसा करते समय उन्होंने यह भी नहीं सोचा कि कहीं यह करके वह देश के साथ गद्दारी तो नहीं कर रहे हैं, अब देश को वंशवाद से आजादी मिली है.”

सच्चाई को दरकिनार कर पार्टी लाइन पर चलते हुए वित्तमंत्री ने कहा कि आज तक महात्मा गांधी, राजीव गांधी और डॉ़ अंबेडकर ने जो नहीं किया, वह राहुल गांधी ने देशद्रोही नारे लगाने वालों के साथ खड़े होकर कर दिया है. ऐसा राहुल गांधी ने सहानुभूति बटोरने के लिए किया है.

जेटली ने कहा कि मंदी के दौर में भी भारत तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था है. मोदी सरकार ने वंशवाद, भ्रष्टाचार और गरीबी भुखमरी से आजादी दिलाया है.

उन्होंने विपक्षी दलों पर कटाक्ष करते हुए कहा कि पहले देशहित की बात आने पर विपक्षी दल भी एकजुट हो जाते थे, मगर अब कोई याकूब मेनन तो कोई अफजल की याद में कार्यक्रम करना चाहता है.

दूसरे दिन वित्तमंत्री अरुण जेटली, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह, केंद्रीय मंत्री संजीव बालियान, केंद्रीय मंत्री धर्मेद्र प्रधान ने सम्मेलन में पहुंचकर कार्यकर्ताओं में जोश भरा.

इस दौरान मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज ने राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए कहा कि जिस कांग्रेस में कभी महात्मा गांधी रहे, उस पार्टी के नेता राहुल जेएनयू में राष्ट्रद्रोही नारे लगाने वालों के साथ खड़े हो रहे हैं, यह शर्मनाक स्थिति है.

उन्होंने चाटुकारिता की हद पार करते हुए कहा कि केवल दुनिया ही नहीं, कांग्रेस भी ‘मोदी-मोदी’ कर रही है. मोदी वैश्विक नेता हैं. आज देश में गरीबों की चिंता करने वाली सरकार देश के विकास की योजनाएं बना रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *