रेल बजट जयललिता ने सराहा, लालू ने कोसा

नई दिल्ली | एजेंसी: तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जे. जयललिता ने मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और रेल मंत्री डी. वी. सदानंद गौड़ा की सराहना की. उन्होंने कहा कि सरकार ने देश के सामने भारतीय रेलवे की सही तस्वीर पेश की है. वहीं, पूर्व रेल मंत्री लालू प्रसाद यादव ने रेल मंत्री सदानंद गौड़ा द्वारा संसद में पेश किए गए बजट को पूरी तरह अव्यावहारिक बताया है.

पटना में पत्रकारों से चर्चा करते हुए लालू ने रेलगाड़ियों में ऑटोमेटिक लॉक सिस्टम को पूरी तरह अव्यावहारिक बताया. उन्होंने कहा कि अब जनशताब्दी में ताला बंद हो जाएगा और लोग परेशान हो जाएंगे. उन्होंने कहा कि जैसे कार में ताला बंद होता है वैसे ही अब रेलगाड़ी में भी ताला बंद होगा. रेलगाड़ी में कहीं ताला बंद होता है!


तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जे. जयललिता ने कहा कि सरकार ने देश के सामने भारतीय रेलवे की सही तस्वीर पेश की है. राज्य को देश के अन्य हिस्सों से जोड़ने के लिए नई रेलगाड़ियों के प्रस्ताव का स्वागत करते हुए उन्होंने उम्मीद जताई कि तमिलनाडु में लंबे समय से लंबित परियोजनाओं को पूरा करने के लिए कोष का उचित आवंटन किया जाएगा.

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने रेल बजट को ‘निराशाजनक’ करार दिया, और कहा कि इसमें कांग्रेस शासित राज्यों की उपेक्षा की गई है. रेल मंत्री डी. वी. सदानंद गौड़ा के संसद में पहला रेल बजट पेश करने के बाद गांधी ने पत्रकारों से कहा, “यह निराशाजनक बजट है.” उन्होंने कहा कि 164,374 करोड़ के बजट में कांग्रेस शासित प्रदेशों को उचित हिस्सा नहीं दिया गया है. गांधी ने कहा, “कांग्रेस शासित प्रदेशों की उपेक्षा की गई है.”

दूसरी तरफ पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने केंद्र सरकार पर रेल बजट में उनके राज्य को नजरअंदाज करने का आरोप लगाया. बनर्जी ने अपने आधिकारिक फेसबुक पेज पर कहा, “नई सरकार ने पश्चिम बंगाल की उपेक्षा और उसका अपमान किया है.” उन्होंने हैरानी जताते हुए लिखा, “क्या किसी ने पहले कभी ऐसी उपेक्षा और अपमान देखा.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!