हॉस्टल में एसी, छात्रों पर जुर्माना

रायपुर | एजेंसी: छत्तीसगढ़ के रायपुर स्थित पं. जवाहर लाल नेहरू मेडिकल कॉलेज के हॉस्टल के छात्रों पर जुर्माना लगाया गया है. इसका कारण यह है कि जूनियर डॉक्टरों और चिकित्सा छात्रों ने बिना अनुमति के एसी लगा लिया. वार्डन ने छापा मारा और पकड़े गए.

कॉलेज प्रबंधन ने ऐसे 45 छात्रों पर ढाई-ढाई हजार रुपये का जुर्माना कर दिया है. इनमें चार छात्रों पर 15-15 हजार रुपये जुर्माना किया गया है. कॉलेज प्रशासन ने चिकित्सा छात्रों को 20 जून तक जुर्माने की राशि अदा करने के निर्देश दिए गए हैं.


मेडिकल कॉलेज के डीन डॉ. अशोक चंद्राकर ने बताया कि 45 छात्रों पर जुर्माना लगाया गया था, चार को छोड़ सभी ने एसी निकाल लिए. जिन्होंने नहीं निकाला उन पर 15 हजार रुपये और जुर्माना लगाया गया है. अगर तब भी नहीं हटाएंगे तो हॉस्टल से निष्कासित कर दिया जाएगा. हॉस्टल, हॉस्टल होता है, उसे लग्जरी नहीं बनाया सकता.

कॉलेज के ओल्ड व न्यू ब्वायज हॉस्टल में पिछले कई दिनों से अनुमति के बिना एसी लगाए जाने की सूचना थी. वार्डन ने अचानक छापा मारा. जांच में शिकायत सही निकली. संकेत दिए गए हैं कि उनके एसी भी जब्त किए जा सकते हैं.

कॉलेज प्रबंधन के अधिकारियों ने बताया कि कॉलेज में गर्मी के दिनों में बिजली का लोड बढ़ जाता है. इससे बार-बार ट्रांसफर उड़ने की समस्या सामने आती है. इस वजह से कॉलेज प्रबंधन की ओर से बाकायदा सूचना जारी कर कहा गया था कि अनुमति के बिना कोई भी अपने कक्ष में एसी नहीं लगवाएगा. बिजली विभाग के इंजीनियरों ने भी लोड बढ़ने का तर्क देते हुए छात्रों को एसी नहीं लगाने की अपील की थी.

पुराने और नए हॉस्टल के 25 कमरों में एसी लगा था. पिछले दो महीने से बिजली का बिल अचानक ज्यादा आने लगा था. बिल देखने के बाद ही मंथन किया गया और जानकारी जुटाई गई तब पता चला कि एसी का उपयोग हो रहा है.

जूनियर डाक्टरों और चिकित्सा छात्रों ने अगर ढाई-ढाई हजार रुपये का जुर्माना नहीं भरा तो यह राशि कॉशनमनी से काट ली जाएगी. कॉलेज में प्रत्येक छात्र के 50 हजार कॉशनमनी के रूप में जमा है. एसी लगाने वाले छात्रों की सूची लेखा विभाग को दे दी गई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!