सीरिया पर सैन्य हमले के खिलाफ रूसी सांसद

मास्को | एजेंसी: रूसी संसद ड्यूमा ने दुनिया भर के देशो से आवह्वान किया है कि सीरिया को संभावित सैन्य हमले से बचाया जाये. साथ ही यह चेतावनी दी है कि इस तरह का कदम इलाके में स्थिरता को खतरे में डाल देगा. रूस के सांसदों ने एक वक्तव्य जारी कर कहा कि सैन्य कार्रवाई अंतर्राष्ट्रीय कानून का उल्लंघन है और इसे अपराध माना जाएगा.

वक्तव्य में कहा गया है कि, “आपदा को रोकने के सभी साधन उपलब्ध हैं, स्टेट डूमा ने अमेरिकी कांग्रेस और अन्य देशों की संसद से सीरिया के आंतरिक संकट के लिए कोई आक्रमक योजना लागू न करने और शांतिपूर्ण उपाय की खोज पर ध्यान देने की अपील की है.”


सीरिया ने रूसी प्रस्ताव का समर्थन किया है तथा अमरीका ने भी फिलहाल सैन्य कार्यवाही से बचने का फैसता लिया है. इससे पहले रूसी राष्ट्रपति पुतिन ने सीरिया पर कार्यवाही करने का विरोध किया था. सीरिया मुद्दे पर अलग-थलग पड़ते अमरीका ने भी इसी में अपनी भलाई समझी है कि हमले को टाल दिया जाये.

उधर इराक ने अमेरिका के संभावित हमले से बचने के लिए सीरिया के रासायनिक हथियारों को अंतर्राष्ट्रीय नियंत्रण में रखे जाने के रूस के प्रस्ताव का स्वागत किया है. इराक के विदेश मंत्रालय ने बुधवार को वक्तव्य जारी कर कहा, “इराक रूस के उस प्रस्ताव का स्वागत करता है जिसमें सीरिया सरकार को उनके रासायनिक हथियारों के भंडार को निरस्त्रीकरण के अंतर्राष्ट्रीय उपाय के तहत अंतर्राष्ट्रीय नियंत्रण और निरीक्षण में रखे जाने की बात कही गई है.”

इसमें कहा गया है कि यह प्रस्ताव सीरिया संकट के तनाव को कम करने और राजनीतिक समाधान के अवसर को सुदृढ़ करने के रूप में आया है. रूस ने सीरिया को अमेरिका के संभावित सैन्य हमले से बचाने और तनाव को कम करने के लिए सोमवार को यह प्रस्ताव पेश किया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!