‘दीवार’ के शशि कपूर अस्पताल में भर्ती

मुंबई | मनोरंजन डेस्क: फिल्म ‘दीवार’ में इंस्पेक्टर की यादगार भूमिका करनेवाले शशि कपूर को सीने में संक्रमण के कारण अस्पताल में भर्ती कराया गया है. दीवार फिल्म में उनके डायलॉग मेरे पास मां है को आज भी याद किया जाता है. चिकित्सकों के अनुसार फिलहाल उनकी हालत स्थिर है. उन्हें रविवार को मुंबई के कोकिलाबेन अस्पताल में भर्ती कराया गया. कोकिलाबेन धीरूभाई अंबानी अस्पताल के कार्यकारी निदेशक राम नारायण ने कहा, “उन्हें सीने में संक्रमण था. वह एंटीबायोटिक दवाओं पर हैं, लेकिन फिलहाल उनकी हालत स्थिर है.”

76 वर्षीय शशि कपूर को ‘आवारा’, ‘दीवार’, ‘सत्य शिवम सुंदरम’ और ‘कभी कभी’ सहित अन्य फिल्मों के लिए जाना जाता है.


शशि कपूर ने गैर परम्परागत किस्म की भूमिकाओ के साथ सिनेमा के परदे पर आगाज किया था. उन्होंने सांप्रदायिक दंगो पर आधारित धर्मपुत्र में 1961 में काम किया था. उसके बाद चार दीवारी और प्रेमपत्र जैसी फिल्मो में नजर आये. वे हिंदी सिनेमा के पहले ऐसे अभिनेता थे जिन्होंने हाउसहोल्डर और शेक्सपियर वाला जैसी अंग्रेजी फिल्मो में मुख्या भूमिकाये निभाई.

वर्ष 1965 उनके लिए एक महत्वपूर्ण साल था. इसी साल उनकी पहली जुबली फिल्म ‘जब जब फूल खिले’ रिलीज हुयी और यश चोपड़ा ने उन्हें भारत की पहली बहुल अभिनेताओ वाली हिंदी फिल्म ‘वक्त’ के लिए कास्ट किया. बॉक्स ऑफिस पर लगातार दो बड़ी हित फिल्मो के बाद व्यावहारिकता का तकाजा यह था की शशि कपूर परम्परागत भूमिकाये करे, लेकिन उनके अन्दर का अभिनेता इसके लिए तैयार नहीं था. इसके बाद उन्होंने ‘ए मत्तेर ऑफ़ इन्नोसेंस’ और ‘प्रीटी परली 67’ जसी फिल्मे की. वहीँ हसीना मन जाएगी, प्यार का मोसम ने उन्हें एक चोकलेटी हीरो के रूप में स्थापित किया.

70 के दशक में शशि कपूर सबसे व्यस्त अभिनेताओ में से एक थे. इसी दशक में उनकी ‘चोर मचाये शोर’, दीवार, कभी – कभी, दूसरा आदमी और ‘सत्यम शिवम् सुन्दरम’ जैसी हिट फिल्मे रिलीज हुयी. वर्ष 1971 में पिता पृथ्वीराज की मृत्यु के बाद शशि कपूर ने जेनिफर के साथ मिलकर पिता के स्वप्न को जरी रखने के लिए मुंबई में पृथ्वी थियेटर का पुनरूथान किया.

अमिताभ बच्चन के साथ आई उनकी फिल्मो दीवार, कभी – कभी, त्रिशूल, सिलसिला, नमक हलाल, दो और दो पांच, शान ने भी उन्हें बहुत लोकप्रियता दिलवाई. 1977 में इन्होने अपनी होम प्रोडक्सन क. ‘फिल्म्वालाज’ लॉन्च की.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!