स्टंटमैन की हवा में मौत पर सवाल

सिलिगुड़ी | संवाददाता: सिलिगुड़ी के स्टंटमैन शैलेन्द्र नाथ रॉय की मौत को लेकर कई सवाल खड़े हो गये हैं. जिस पुलिस महकमे में वे ड्राइवर के पद पर काम करते थे, उस पुलिस विभाग ने भी हाथ झाड़ दिये हैं.

शैलेंद्र की जहां मौत हुई, वहां न तो सुरक्षा के इंतजाम थे और ना ही पुलिस की कोई व्यवस्था थी. सिलिगुड़ी के पुलिस आयुक्त के जयरामन का कहना है कि उन्हें इस बारे में कोई सूचना नहीं थी और शैलेंद्र राय रविवार को छुट्टी पर थे.


सवाल यह है कि जहां हजारों लोगों की भीड़ उपस्थित हो और जिस स्टंट की खबर पूरे सिलिगुड़ी को हो, वहां पुलिस की अनभिज्ञता बताती है कि या तो सिलिगुड़ी की पुलिस का सूचना तंत्र फेल हो गया है या फिर पुलिस अपनी जिम्मेवारी से बचना चाहती है.

गौरतलब है कि गिनीज़ बुक ऑफ वर्ल्ड में शामिल अपने बालों के ज़रिए कई साहसिक कारनामों को अंजाम देने वाले स्टंटमैन शैलेन्द्र नाथ रॉय की दार्जिलिंग की पहाड़ियों में एक स्टंट के दौरान रविवार को मौत हो गई थी.

वे तीस्ता नदी पर सीवोक कोरोनेशन पुल के पास की दो पहाड़ियों के बीच ज़िप केबल बांध कर बालों के सहारे 400 फीट की दूरी को पार कर रहे थे. इस दौरान उनकी बालों की चोटी केबल जिप में फंस गई. राय ने आधे घंटे तक लगातार कोशिश की और हजारों लोगों की भीड़ के बीच उन्होंने हवा में फंसे-फंसे जान दे दी.

हालांकि जिला प्रशासन ने उनकी मौत की जांच की बात कही है लेकिन प्रशासनिक अमला जिस तरह से इस मामले में पल्ला झाड़ रहा है, उससे लगता नहीं है कि मामले की कोई निष्पक्ष जांच हो पाएगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!